/हिन्दू लडकी को अगुवा कर बलात्कार करने के आरोप में पाक में एक गिरफ्तार

हिन्दू लडकी को अगुवा कर बलात्कार करने के आरोप में पाक में एक गिरफ्तार

पाकिस्तान के इस्लामाबाद से खबर है कि एक हिंदू युवती के जबरन धर्म परिवर्तन के मामले में पुलिस ने अदालती आदेश के बाद एक मुस्लिम युवक को बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. युवक ने दावा किया था कि युवती ने इस्लाम धर्म कबूल कर उससे निकाह किया था, जबकि युवती ने इन दावों को खारिज कर दिया.

युवती ने सरवर सोलंगी पर उसे अगवा करने और महीनों तक बलात्कार करने का आरोप लगाया है. सिंध हाई कोर्ट के हैदराबाद सर्किट ने सोमवार को सरवर को पुलिस रिमांड में भेज दिया. जज मुनीब अख्तर ने यह फैसला सोलंगी की उस याचिका पर सुनवाई के बाद दिया जिसमें उसने दावा किया था कि इस्लाम धर्म कबूल करने से पहले वह भी हिंदू था. सोलंगी के वकील गुलाम हैदर शाह ने कहा कि तंदोजाम की 19 वर्षीय इस युवती ने गत 20 मई को इस्लाम धर्म कबूल किया था और इस संबंध में सुबूत के तौर पर एक प्रमाण पत्र भी जारी किया गया था. युवती ने सोलंगी से कराची के शहर मलेयर टाउन में गत 25 मई को विधिवत निकाह किया था.

सोमवार को सुनवाई के दौरान युवती ने अदालत को बताया कि गत 18 मई को वह कपड़े धोने के लिए घर से निकली थी, जब सोलंगी और दो अन्य लोगों ने उसका अपहरण कर लिया. वे उसे कराची ले गए थे. मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, ‘युवती को एक कमरे में बंद कर दिया गया और सोलंगी ने उसके साथ बलात्कार किया. युवती 30 जून को मौका मिलते ही सरवर सोलंगी के कब्ज़े से उस समय निकल भागी जब सोलंगी शराब खरीदने बाज़ार गया था.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.