/जैसलमेर हेरोईन मामले में पुलिस व एटीएस की जांच संदेह के घेरे में

जैसलमेर हेरोईन मामले में पुलिस व एटीएस की जांच संदेह के घेरे में

कार्यवाही के दौरान पांच को पकडा था लेकिन अब बता रहे हैं चार की गिरफ्तारी, राजनैतिक दबाव के चलते पांचवे को मामले से बाहर निकालने की हो रही है चर्चाएं

-जैसलमेर से मनीष रामदेव||
जैसलमेर में दो दिन पूर्व पुलिस एवं एटीएस द्वारा की गई बडी कार्यवाही के तहत 8 करोड रूपये की हेरोईन पकडने के बाद की जा रही जांच संदेह के घेरे में आ रही है। पुलिस द्वारा मौके पर पांच लोगों को पकडा गया था लेकिन अब पुलिस द्वारा जारी किये जा रहे बयानों में चार लोगों के गिरफ्तार होने की बात पर यह सवाल उठ रहे है कि जब कार्यवाही की थी तब पांच तस्करों को हिरासत में लिया था ऐसे में अब पांचवां संदिग्ध कहां गायब हो गया है इसको लेकर न तो पुलिस कुछ बता रही है और न ही एटीएस। पुलिस व एटीएस द्वारा जब कार्यवाही की गई थी तब अनौपचारिक रूप से दी गई जानकारी में पांच लोगों के गिरफ्तार किये जाने की बात बताई गई थी।
जैसलमेर के हनुमान चौराहा स्थित एक होटल से विगत 8 अगस्त को पुलिस व एटीएस द्वारा दबिश देकर 8 किलो हेरोईन के साथ जैसलमेर के दो व पंजाब के तीन तस्करों को गिरफ्तार किया गया था। एटीएस द्वारा की गई इस कार्यवाही के समय स्थानीय मीडिया सहित कई लोग मौके पर मौजूद थे। एटीएस उस समय की गई कार्यवाही में होटल के बाहर जैसलमेर के दो व होटल के अन्दर से पंजाब के तीन तस्करों को हिरासत में लिया था और इन्हें अलग अलग वाहनों में डाल कर रवाना किया था लेकिन घटना के दो दिन गुजर जाने के बाद पुलिस व एटीएस इस मामले में लीपापोती कर एक मुलजिम को बचाने का प्रयास करती दिखाई पड रही है। इस में यह संभावना भी जताई जा रही हैै कि कहीं न कहीं राजनैतिक दबाव के चलते पांचवे व्यक्ति को अब तक गिरफ्तार नहीं बताया जा रहा है। हालांकि यह भी बताया जा रहा है कि पांचव व्यक्ति अभी तक एटीएस व पुलिस के कब्जे में ही है। सूत्रों की मानें तो जिस पांचवे व्यक्ति को पुलिस व एटीएस बचाने का प्रयास कर रही है उसी के खेत से हेरोईन बरामद की गई थी। इस संबंध में पुलिस व एटीएस कुछ भी बताने को तैयार नहीं हो रही है।
घटना स्थल पर पुलिस व एटीएस द्वारा मीडियाकर्मियों व अन्य लोगों के सामने पांच लोगों को हिरासत में लिया गया था लेकिन कहीं न कहीं कार्यवाही के दौरान राजनैतिक दबाव का साया साफ तौर पर दिखाई पड रहा है जिसके चलते पांचवे आरोपी को बचाने  का प्रयास किया जा रहा है। इस सबंध में जिला पुलिस अधीक्षक ममता विश्नोई ने गोलमोल जवाब देते हुए कहा कि कार्यवाही के दौरान चार तस्करों को ही गिरफ्तार किया था, यदि पांचवा व्यक्ति इसमें शामिल है तो क्रास चैक करवाया जायेगा।

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

मनीष रामदेव बरसों से जैसलमेर से पत्रकारिता कर रहे हैं. वर्तमान एल्क्ट्रोनिक मीडिया के साथ साथ वैकल्पिक मीडिया के लिए भी अपना समय दे रहे हैं. मनीष रामदेव से 09352591777 पर सम्पर्क किया जा सकता है.