कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे [email protected] पर भेजें | इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है। पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं। हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो। आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें -मॉडरेटर

नरेन्द्र मोदी को जैसलमेर से चुनाव लड़ने की चुनौती….

7
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.
अपनी बेबाकी के लिए कुख्यात राजस्थान सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग मंत्री अशोक बैरवा ने नरेन्द्र मोदी के राहुल गाँधी को अंतर्राष्ट्रीय नेता कहने पर दी चुनौती..
-जैसलमेर से सिकंदर शेख
नरेन्द्र मोदी जैसलमेर से चुनाव लड़कर बताये तो माने, राहुल गाँधी तो वाकई अन्तराष्ट्रीय नेता ही है क्योंकि पूरी दुनिया उन्हें मानती है , ये बात आज जैसलमेर में अपनी एक दिवसीय यात्रा पर आये  राजस्थान सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग मंत्री अशोक बैरवा ने स्थानीय सर्किट हाउस में पत्रकारों से बात चीत में कही, अपनी एक दिवसीय यात्रा पर जैसलमेर आये बैरवा कल  रामदेवरा मेला देखने गए  थे वहां से शाम को तनोत माता मंदिर गए थे और आज सुबह स्थानीय सर्किट हाउस में पत्रकारों से बात कर वापिस जयपुर प्रस्थान कर गए…
गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा राहुल गाँधी पर अन्तराष्ट्रीय नेता की टिपण्णी पर बौखलाए  राजस्थान सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग मंत्री अशोक बैरवा ने उन्हें जैसलमेर से चुनाव लड़ने की चेतावनी दे डाली और कहा की नरेंद्र मोदी को जैसलमेर से चुनाव लड़ना चाहिए तो हम उनकी नेत्रत्व वाली बात को माने वरण राहुल गाँधी और सोनिया गांधी तो है ही अन्तराष्ट्रीय नेता उनकी पूरी दुनिया मानती है , और रहा सवाल उनके इटली से चुनाव लड़ने वाली बात का तो जहां संविधान इजाजत देगा वहां से वो चुनाव लड़ेंगे..
गुजरात के मुख्यमंत्री को ये चेतावनी  राजस्थान सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग मंत्री अशोक बैरवा ने आज स्थानीय सर्किट हाउस में  एक सवांददाता के सवाल पर दी…वे अपनी एक दिवसीय निजी यात्रा पर कल शाम को जैसलमेर आये थे,, वे पहले रामदेवरा गए थे जहां से बाबा रामदेव की समाधी केदर्शन के पश्चात वो कल शाम यहाँ जैसलमेर पहुंचे ..जहाँ वो भारत पाक सीमा पर स्थित तनोत माता मंदिर हेतु निकल गए..और आज सुबह स्थानीय सर्किट हाउस में रुके और पत्रकारों से बात चीत करी…
गौरतलब है की  राजस्थान सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग मंत्री अशोक बैरवा  अपनी बेबाकी के लिए खासे कुख्यात है और वो अपने दबंग लहजे में बहुत कुछ कह देते हैं ….अब भाजपा इसका क्या जवाब देगी ये तो वोही जाने मगर नरेन्द्र मोदी को चुनोती मिल चुकी है…
Facebook Comments
Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

संबंधित खबरें:

Share.

About Author

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.

7 Comments

  1. Rahul gandhi Gujrat se kyon nahin ladte.Chodo dilli se kyon nahin ladne kee himmat karte, Chuha hai bil mein he ghusa rahta hai.

  2. इसका मतलब इटली का संविधान उन्हें इजाजत नहीं देगा हा………..हा ………..जेसलमेर से चुनाव लड़ाने की इतनी उतावली क्यों हे दिल्ली से क्यों नहीं कहा डरते हे क्या दरअसल चुनोती अपने बराबर वालो से की जाती हे ये नेता तो छुटभैया हे जाने कितनी आवाजे अगल बगल से अति रहती हे इनपर कोई क्यों ध्यान दे

  3. ओ मन त्रि जी आप गुजरात के किसी भी छेयर से पार्षद का चुनायो लड़ लो आजयो या पचियत का चुनायो आपने अंतराष्टीय नेता को भी लेते आना यदि आप चयो जीत जयो या आपके अंतराष्टीय नेता चुन्यो जीत ले तो हम लोग आप को सोने से टोल देंगे नहीं तो आप को मोदी के घर के सामने झाड़ू लगा कर माफ़ी मांग नि पड़ेगी ओर्र अपनी ये बेलगाँ जवान उस विदेशी महिला की चाटुकारिता मई बाद बढ़ाते फिरते हो ये अपनी ओउकाद है ही रहे तो अच्छा है

  4. कांग्रेस कब तक घोटाले करती जाएगी .. राजस्थान में भी एक घोटाले ओपन होगा जैसलमेर के मुरब्बा ( नहरी जमींन) का नाचना में जहा पर सभी चोर बेठे है में तहकीकात कर रहा हु जल्द ही ओपन करूँगा …

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

%d bloggers like this: