Loading...
You are here:  Home  >  राजनीति  >  Current Article

मनमोहन के भाषण के बीच हंगामा, टेबल पर चढ़ कमीज़ उतारी, इस्तीफ़ा माँगा…

By   /  September 22, 2012  /  2 Comments

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

यूपीए सरकार और उसके प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के प्रति आम भारतीयों में नाराजगी अपनी हदें लाँघ चुकी हैं. जिसके चलते अब लोगों ने अपने अपने तरीके से मनमोहनी सरकार के कार्यकलापों के प्रति अपना विरोध ज़ाहिर करना शुरू कर दिया है. दिल्ली के विज्ञान भवन  में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के एक कार्यक्रम में एक शख्स ने शर्ट उतारकर उनका विरोध किया. उसने सरकार विरोधी नारे लगाए और प्रधानमंत्री से इस्तीफा मांगा. वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी भी भौचंके से कुछ देर तो समझ भी नहीं पाए कि यह क्या हो रहा है, फिर उस शख्स को दबोच लिया. उससे पूछताछ की जा रही है. हालांकि, विरोध के बीच प्रधानमंत्री ने अपना भाषण जारी रखा लेकिन अपने चहरे से सकपकाहट के भावों पर मनमोहन सिंह कोई नियंत्रण नहीं कर पा रहे थे.

दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित आर्थिक विकास सम्मेलन में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जैसे ही भाषण देने के लिए मंच की तरफ बढ़े, एक शख्स ने उनके विरोध में नारे लगाने शुरू कर दिए. उसने पीएम वापस जाओ और भ्रष्ट पीएम इस्तीफा दो जैसे नारे लगाए. देखते ही देखते वह टेबल पर चढ़ गया और अपनी कमीज उतार दी. उसने प्रधानमंत्री से इस्तीफा मांगा. वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत उसे दबोच लिया. उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. इस विरोध के बावजूद प्रधानमंत्री ने अपना भाषण दिया.

सूत्रों के मुताबिक, यह शख्स पेशे से वकील है. इसका नाम संतोष कुमार सुमन बताया जा रहा है. यह सुप्रीम कोर्ट बार असोसिएशन में रजिस्टर्ड है. यह मूल रूप से बिहार का बताया जा रहा है. कहा जा रहा है कि संतोष पिछले दिनों डीजल के दामों में बढ़ोतरी से नाराज है. उसी का विरोध करने संतोष वहां पहुंचा था.

कांग्रेस ने इसके पीछे गहरी साजिश की चिंता जताई है. पार्टी ने कहा है कि इस मामले की पूरी जांच की जाए. पार्टी प्रवक्ता राशिद अल्वी ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि यह विपक्षी पार्टियों के प्रधानमंत्री को बदनाम करने की मुहिम का हिस्सा है.

इस घटना पर विपक्षी पार्टियों का कहना है कि यह बढ़ती महंगाई के खिलाफ आम आदमी के गुस्सा का परिणाम है. इंडिया अंगेस्ट करप्शन के अरविंद केजरीवाल ने इस मुद्दे पर कहा कि देश की जनता दुखी है. पानी सिर के ऊपर से बह रहा है.

कार्यक्रम में इन सारी घटनाओं से बेफिक्र में प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में निवेश बढ़ाने के लिए माहौल बनाना होगा. उन्होंने कहा कि सरकार ने आर्थिक सुधार के लिए कुछ जरूरी कमद उठाए हैं. कुछ और महत्वपूर्ण निर्णय जल्द लिए जाएंगे.

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email

About the author

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.

2 Comments

  1. tiwari b l says:

    meri ye maang rahegi ki ies aadmi ke pass ye shart kanha se or kaiy se aaye C B I janch kare ies ki ye oukad ki khule aam ye sharet le kar ghoomta feir jo p m poora nagga ho bina aabru ka ho uss ka ye apman ki ye aadmi hsart dikhata feir ye to janch ka vishay hai hi

  2. mai to yes mang karunga ki ies aadmi ke pass yes shart kanha se aagayee ies ki yes oukad ki kule aam shaetr le kar ghoom rahatha.

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

You might also like...

यूपी का अनाज़ घोटाला नचाता है माया मुलायम को केंद्र के इशारों पर..

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: