Loading...
You are here:  Home  >  अपराध  >  Current Article

माँ ने करवाया नाबालिग पुत्री का रेप, पिता भी करता था दुष्कर्म

By   /  July 21, 2013  /  3 Comments

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

राजस्थान में अपनी पांच बेटियों के साथ दुष्कर्म करने वाले पिता की गिरफ्तारी के बाद अब केरल के कन्नूर जिले में एक पिता द्वारा अपनी नाबालिग पुत्री के साथ दुष्कर्म करने का शर्मनाक मामला सामने आया है. लड़की का पिता अपनी पुत्री के साथ तब से दुष्कर्म कर रहा था, जब वह 11 साल की थी. जबकि इस लडकी को उसके एक पडोसी ने इस लड़की की माँ के सहयोग से अपनी हवस का शिकार बनाया था. पुलिस ने इस मामले में पीड़ित लडकी के माता-पिता समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है.rape (2)_1

कन्नूर जिले के अलाकोड निवासी यह किशोरी अब 17 वर्ष की हो गई है. उसके माता-पिता ने पैसा कमाने के लिए उससे जबरन वेश्यावृत्ति कराई. वे उसे कन्नूर और कसारगाड जिले में कई स्थानों पर ले जा कर उससे वेश्यावृति करवाते थे. पीड़ित की मां को गुरुवार को गिरफ्तार किया गया, जबकि बाकी आरोपियों को तीन दिन पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है.

अलाकोड सर्किल इंस्पेक्टर एमए मैथ्यू ने बताया कि पीड़ित की दर्दभरी दास्तान तब सामने आई जब वह कसारगाड के एक घर से भागी, जहां उसके साथ रेप किया गया. वहां पर वह नौकरानी के काम के लिए लाई गई थी.

पुलिस ने जब उसे सुनसान रास्ते पर चलते देखा तो उसे अपने साथ ले आई. पूछताछ किए जाने पर उसने आपबीती सुनाई. पुलिस ने बताया कि लड़की के साथ पहली बार रेप उसकी मां की मिलीभगत से उसके पड़ोसी ने किया जब वह सिर्फ 11 साल की थी. उसके बाद उसके पिता ने कई बार उसके साथ रेप किया.

राज्य अपराध ब्यूरो के मुताबिक इस साल मार्च तक नाबालिगों के साथ रेप के 159, हत्या के 10 और अपहरण के 33 मामले सामने आए. इस साल मार्च तक बच्चों के खिलाफ अपराध को लेकर कुल 480 मामले दर्ज हुए हैं. पिछले साल नाबालिग के साथ रेप के 455 मामले दर्ज हुए थे.

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email

About the author

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक “मुखौटों के पीछे – असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष” में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.

3 Comments

  1. aap ki khawar ne kewal mata pita ko hi doshi mana hai yes attiyachr betiyo par hota rahe our samaj chup chap rahe yes to thik nahi hai samaj kanaam joda jana chahiye ietani bar barta ho ourr samj kuchh na kar sake yes ashaniya hai.

  2. aap ki khawar mai kewal mata pita ko hi doshi man hai yes kis jaati ke kis mahaz.

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

पनामा के बाद पैराडाइज पेपर्स लीक..

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: