Loading...
You are here:  Home  >  दुनियां  >  देश  >  Current Article

मोटरसाईकिल पर स्टंट कर रहे युवकों पर पुलिस ने गोली चलाई, एक युवक की मौत..

By   /  July 28, 2013  /  3 Comments

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

राजधानी के वीवीआइपी इलाके में शनिवार स्टंट कर रहे युवकों पर पुलिस ने गोली चला दी जिसमें एक युवक की मौत हो गई और एक अन्य घायल हो गया जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है.bikers

जानकारी के अनुसार, अशोका रोड चौराहे के समीप पांच सितारा होटल ली मेरीडियन इलाके में देर रात स्टंट कर रहे बाइकर्स पर पुलिस फायरिंग में बाइक पर पीछे बैठे करन पांडेय की मौत हो गई और ड्राइव कर रहे पुनीत शर्मा घायल हो गया. उसे राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दोनों मालवीय नगर के रहने वाले बताए जा रहे हैं.

पुलिस सूत्रों ने बताया कि घटना रात डेढ़ से दो बजे के बीच उस समय हुई जब सड़कों पर बाइकरों का एक समूह पुलिस अधिकारियों से भिड़ गया और पथराव कर दिया. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बाइक का टायर पंचर करने के लिए चलाई गई गोली से युवक की मौत हुई. गोली उसकी पीठ में लगी थी. सूत्रों ने बताया कि अस्पताल में जांच में पाया गया कि दोनों युवकों ने शराब पी रखी थी.

पुलिस को खबर मिली थी कि ली मेरीडियन इलाके में कई बाइकर्स खतरनाक स्टंट कर रहे हैं. जब पुलिस उन्हें रोकने के लिए पहुंची और स्टंट करने से रोका तो भागते हुए बाइकर्स पथराव करने लगे जिसमें पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त हो गया. पुलिस के अनुसार बाइकर्स को तितर-बितर करने के लिए हवा में कुछ गोलियां चलाई गई. लेकिन जब वे लगातार स्टंट करते रहे तो एक पुलिस अधिकारी ने एक बाइक का टायर पंचर करने के लिए गोली चलाई जो दुर्घटनावश पांडेय की पीठ में जा लगी. घटना में कुछ पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं.

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email

About the author

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक “मुखौटों के पीछे – असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष” में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.

3 Comments

  1. Rahul Rai says:

    कुछ समय पहले कुछ "शांतिप्रिय" धर्म के लड़कों ने Bikeपर स्टंट किया था राजधानीमें…..तब पुलिश ने गोली कयु नही चलायी…जरा इस प्रश्न का उत्तर भी खोजियेगा…प्रतीक् जी…

  2. police ke pass goli hai chala bhi sakti yes bhi bata diyya gay hai koyee mara bhi gaya hai iesi delhi ki sadko par iesi police ke saamne yese hi kaiyee ladke iesi tarah ki stantat wazi kar huye dekhe gaye the us samay yahi police saayad iesi goli banduk ke sath ieni sadko par khadi tali baza rahi thi chetoni bhi nahi dee gahyee thi furk ietan hi tha ki yes YE HINDU THE JO MAARE GAYE OURR VO IEN KE DAAMAD BAHNOYEE THE JO UTPAAT KATE RAHE SABBRAAT KI RAAT THI BO KHAIY US DIN KISI NE ROKA THA POLICE KO KI AAJ BANDUK PANI MAI DUBO KE RAKHO AAJ SABBARAAT HAI US DIN GOLI KAIYO NAHI CHALI JAGI HINDU JAAGO YE DESH KIN HATHO MAI CHALA GAYA HAI SOCHO.

  3. suraj sharma says:

    POLICE KUCH KARE TO MUSHQIL NA KARE TO MUSHQIL WHT THE HELL ,, at least ab sau baar sochenge sare bikers …

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

जौहर : कब और कैसे..

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: