/इंडियन मुजाहिदीन का मोस्ट वांटेड मास्टर माइंड आतंकी यासीन भटकल गिरफ्तार…

इंडियन मुजाहिदीन का मोस्ट वांटेड मास्टर माइंड आतंकी यासीन भटकल गिरफ्तार…

इंडियन मुजाहिदीन के मोस्ट वांटेड मास्टर माइंड आतंकी यासीन भटकल को आज भारतीय सुरक्षा एजेंसी एनआईए और कर्नाटक पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन में नेपाल से गिरफ्तार किया गया है.bhatkal

एनआईए की टीम उसे गोरखपुर ले आई है. बताया जा रहा है कि आज शाम तक उसे दिल्ली लाया जाएगा.

भटकल पर मुंबई पुलिस ने 10 और दिल्ली पुलिस ने 15 लाख रुपये का इनाम रखा हुआ था. भटकल की गिरफ्तारी सुरक्षा एजेंसियों के लिए कितनी बड़ी कामयाबी है इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शिवशंकर मेनन ने इसकी जानकारी तुरंत प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को दी.

विश्वस्त जानकारी के अनुसार आतंकी यासीन भटकल की गिरफ्तारी भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के लिए बड़ी कामयाबी है. 2008 में अहमदाबाद, सूरत और जयपुर में हुए बम धमाकों के मामले में लंबे समय से इसकी तलाश थी.

वहीं 2010 में हुए वाराणसी घाट, हैदराबाद, बैंगलूरु में हुए धमाकों तथा 2011 में हुए पुणे जर्मन बेकरी और मुंबई ब्लास्ट में भी इस दहशतगर्द का प्रत्यक्ष रूप से हाथ था. इस खूंखार आतंकी की गिरफ्तारी से सुरक्षा एजेंसियों को भारत में सक्रिय इंडियन मुजाहिदीन के नेटवर्क को तोडऩे में बड़ी कामयाबी मिल सकती है.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.