/मंत्री को बंधक बनाया और जम कर की धुलाई…

मंत्री को बंधक बनाया और जम कर की धुलाई…

असलेहा गर्ल्स कॉलेज की विवादित जमीन को लेकर पश्चिम बंगाल के मंत्री और पूर्व हाईकोर्ट न्यायाधीश नूर आलम चौधरी को भीड़ ने जमकर पीटा और कमरे में आठ घंटे तक बंधक बनाकर रखा.noor-alam-chaudhry

मारपीट की ये घटना पश्चिम बंगाल के बीरभूम‌‌ जिले के एक कॉलेज में हुई. जिले के पुलिस अधीक्षक सी सुधाकर ने बताया कि जिले के रामपुरहाट स्थित असलेहा गर्ल्स कॉलेज की जमीन को लेकर दो साल से विवाद चल रहा था.

र‌विवार को कॉलेज में एक बैठक में आए मंत्री नूर आलम को आक्रोशित भीड़ ने घेर लिया. वहीं मुरारई से तृणमूल विधायक और पशु पालन मंत्री नूर आलम के साथ भीड़ ने मारपीट की और कॉलेज के एक कमरे में बंधक बना लिया.

आक्रोशित भीड़ ने मंत्री जी को सुबह 11.30 बजे से रात 8 बजे तक बंधक बनाए रखा. वहीं इस मामले में अधीक्षक का कहना है कि भारी पुलिस बल मौजूद था. मंत्री को ज्यादा चोटें नहीं आईं हैं. इस मामले में न तो कॉलेज प्रशासन और न ही मंत्री की ओर से कोई मामला दर्ज कराया गया है.

इसी बैठक में शामिल अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट विधान रॉय ने बताया कि इस विवादित जमीन के मसले पर आठ सितम्बर को सूरी में फैसला किया जाएगा.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.