Loading...
You are here:  Home  >  राजनीति  >  Current Article

मोदी बना रहे हैं मुज़फ्फरनगर को गोधरा…

By   /  September 11, 2013  /  11 Comments

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

-नचिकेता देसाई||

गोधरा हत्याकांड के सहारे गांधीनगर की गद्दी पर काबिज नरेन्द्र मोदी ने यह ऐलान कर दिया है कि अब देश को गुजरात मॉडल के आधार पर चलाना जरूरी है. इस गुजरात मॉडल की नींव गोधरा की जगह अब मुजफ्फरनगर में रखी जा रही है. गुजरात की रण नीति को समूचे देश में कैसे लागू किया जाए इसका प्रयोग पश्चिमी उत्तर प्रदेश में शुरू हो चुका है. अंगीठी में आग लग चुकी है और इसे दावानल बनाने की तमाम कोशिश जारी हैं – प्रसार और प्रचार के सभी माध्यम इस में लग चुके हैं. भाजपा के राष्ट्रीय प्रचारक रह चुके मोदी मीडिया मैनीपुलेशन में माहिर हैं.modi (1)

मुजफ्फरनगर के दंगो की आग अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जिलों के नगरो और देहातो में फैल चुकी है. इस आग में ४० से ऊपर लोग मारे जा चुके हैं. इस से पहले बिहार के कई इलाको में भी  सांप्रदायिक दंगे हो चुके हैं. उत्तर प्रदेश और बिहार पिछले दो दशको से दंगा मुक्त राज्य रहे हैं लेकिन समाजवादी पार्टी के सत्ता पर आने के बाद ही अचानक दंगे होने शुरू हुए. आखिर क्यों? आज ये राज्य अचानक फिर से संवेदनशील हो गए हैं. दोनों ही राज्यों में भाजपा विरोधी सरकार हैं. समाजवादी पार्टी की सरकार ने जहाँ  विश्व हिन्दू परिषद् की अयोध्या परिक्रमा यात्रा को विफल बनाया वहीं बिहार के नितीश कुमार ने मोदी की सांप्रदायिक राजनीति को चुनौती देते हुए भाजपा को अपनी सरकार से अलग कर दिया.

मुजफ्फरनगर में एक लड़की की छेड़खानी जैसी छोटी सी घटना के बाद हुई तीन हत्याओं के बाद भाजपा के एक विधायक ने सोशल मीडिया पर पाकिस्तान में बनी दो साल पुरानी एक वीडियो को लगा दिया, जिसमे एक भीड़ को दो युवको को जान से मारते हुए दिखाया है. इस वीडियो को यह कह कर प्रचारित किया गया कि उसे शहर में हाल में हुई घटना के समय लिया गया. इस भ्रामक प्रचार के कारण मुजफ्फरनगर और उसके आस पास के इलाको में सांप्रदायिक हिंसा भड़क उठी.

पिछले विधान सभा चुनाव में भाजपा की हुई भारी हार के बाद पहली बार उत्तर प्रदेश में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण होना शुरू हुआ है, जिसका सीधा सीधा लाभ भाजपा को मिलेगा ऐसा माना जा रहा  है. हाल ही में हुई हिंसा के द्वारा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मुसलमान और जाट समुदाय के बीच जो खाई खोद दी गई है इसका लाभ किसको मिलेगा इस बात की अटकल लगाई जा रही है.

अभी तो हालात ऐसे हैं कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तथा उसके पिता मुलायम सिंह यादव तक दंगा प्रभावित इलाको में घुस नहीं सकते.

राजनैतिक विश्लेषको का मानना है कि यदि आज उत्तर प्रदेश में चुनाव हो तो निश्चय ही इन में भाजपा को भारी फायदा होगा. उनको इस बात की भी आशंका है कि साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण कराने के लिए मुज़फ्फरनगर जैसी घटना देश के अन्य हिस्सों में भी कराई जा सकती हैं.

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email

About the author

आपातकाल में भूमिगत पत्रिका रणभेरी निकाल कर पत्रकारिता की शुरुआत की. हिंदी तथा अंग्रेजी भाषा में १९७८ से आज तक विभिन्न पत्र पत्रिका तथा समाचार संस्थानों में काम किया.

11 Comments

  1. Sant Singh says:

    Add a comment…whole media of communist sikular blaming everything for modi instead of smajbadi chor comunal govt which is totally novice to rule,,whole bankrupt media bastard alleging to modi he is 100 % more sikular,nationalist and progressive than these bastard who allowed whole state lawlessness,by their partisan approach,,,i is very happy jatt didnot kill any one with one lakhs people in panchayat,,,,with weapons,,it is their great courage to ask for justice,,,,which is birth right of whole people,if justice is denied,,riots,is imminents whether call it communal sikular or bjp or congress,,first quality of govt is zero

  2. कितना घटिया अकाल का दिवालिया पण ही कहेंगे की मुज्ज़फेनगर की घट्न से मोदी को जोड़ा जा रहा है आखिर हो किय गया है एसे सोचने वालोको मुज्ज़फर्नगर में जिस तरह हिन्दू बछ्चो को मार गया किया बो व् डी ओ आप ने देखा है उसी परिवारी की लड़की की आबरू लूटी गयी उसी परिवार के बच्चोय की हत्तिया किस हैवानियत से खल्ले मवे मैदान में २५० मुसलमानों ने की है साधारण आदमी देखा भी नहीं सकता इएस घट्न से मोदी का किय सम्म्बन्न्ध था किया आप को आँखे दी है नासा भगवान ने किया खुली आखं से दिखाई भी नहीं देता यदि आप के परिवार के साथ एसी घट्न हो जाए तो आप को भी भिध्धीय आजायेगी फ़िएर आप को मोदी नहीं दिखेंगे आप की अकाल ठिकाने आजायेगी पता नहीं किय बम्बास करने ही आदत सी पद गयी है हिन्दुयो की खुलफ निखाने से सायद लोग समझदर ही माने होंगे ये झूठी सेकुलर बड़ी बकबास दिमग्ग को खोखला कर चुकी है हिन्दू मारे जाए कोई बात नहीं मुल्ला के खिलाफ आप वोलेंगे नहीं यही सेकुलार्बदी धरा है हिन्दू हत्तिया हो जाये मारे जाए जलाए जाये कोई बात नहीं आखिर हो किय गया है इएस मिडिया को

    घटिया

  3. Ashok Gupta says:

    in ko pata hai kee MODI aa gaya too kya hoga is liye ye kar rahe hai

  4. Kiran Yadav says:

    desaai sahab shi lkha hai par zara yah bhi bataane ka kasht karen ki jab mulaayam singh kahta hai ki muslimon ke haq ki raksha karne mien wah koi samjhouta nahi karenge aur manmohan singh kahta hai ki is desh ke sansaadhano par pahla haq musalmaano ka hai to is desh ka hindu kya sochta hai kabhi gaur kariyega

  5. mahendra gupta says:

    मोदी फोबिया से पीड़ित लोग और कर भी क्या सकते हैं?प्रदेश में सरकार समाजवादी पार्टी की,दंगा मोदी ने कराया.गोधरा के समय सर्कार मोदी की थी तो भी दंगा मोदी ने कराया.किसी आधार पर लेखिका यह तर्क देती तो कुछ गले भी उतरता पर यहाँ तो केवल आरोप की राजनीती है.देश में जो कुछ भी विपरीत होता है वह या तो संघ करता है या बी.जे .पी.मोदी का फोबिया इतना घन हो गया है कि ये उस सिमित दायरे से बहार जा ही नहीं पते.हिन्दू लड़के मारे गए मोदी जिम्मेदार, मुस्लिम मरे गए तो मोदी जिम्मेदार मुलायम व उनका पुत्र धरम निरपेक्ष क्योंक उन्होंने सर्कार को अपनी तंग कि टेक जो दे राखी है,केवल अपने घोटालों को दबाये रखने के लिए.किसी भी व्यक्ति को अपनी बात कहने रखने का अधिकार है पर निष्पक्ष होकर.ऐसे लेख लिखकर पत्रकारिता का ढोंग कर जनता में उल्टा भ्रम और फैलाते हैं.

  6. मोदी फोबिया से पीड़ित लोग और कर भी क्या सकते हैं?प्रदेश में सरकार समाजवादी पार्टी की,दंगा मोदी ने कराया.गोधरा के समय सर्कार मोदी की थी तो भी दंगा मोदी ने कराया.किसी आधार पर लेखिका यह तर्क देती तो कुछ गले भी उतरता पर यहाँ तो केवल आरोप की राजनीती है.देश में जो कुछ भी विपरीत होता है वह या तो संघ करता है या बी.जे .पी.मोदी का फोबिया इतना घन हो गया है कि ये उस सिमित दायरे से बहार जा ही नहीं पते.हिन्दू लड़के मारे गए मोदी जिम्मेदार, मुस्लिम मरे गए तो मोदी जिम्मेदार मुलायम व उनका पुत्र धरम निरपेक्ष क्योंक उन्होंने सर्कार को अपनी तंग कि टेक जो दे राखी है,केवल अपने घोटालों को दबाये रखने के लिए.किसी भी व्यक्ति को अपनी बात कहने रखने का अधिकार है पर निष्पक्ष होकर.ऐसे लेख लिखकर पत्रकारिता का ढोंग कर जनता में उल्टा भ्रम और फैलाते हैं.

  7. gyan says:

    किश्तवाड़ का नाम छूट गया वो भी शामिल करलो नीच देशाई | मोदी और भाजपा जीरो टोल रेन्स रखते हैं आतंकवाद और आतंक वादियों के लिए | तभी उन प्रदेशों में कोई उपद्रव नहीं होता है | जो की ये टोपी लगाने वाले खी नहीं कर सकते क्योंकि उन्हें उन्ही आतंवादियों के सपोर्टर रों के वोट चाहिए |

  8. gyan says:

    मरना है तो सीधे जहर ही खा लो नीच देसाई क्यों सरे समाज को जहर देना चाहती है | कोई जरूरत नहीं है मुस्लिमों को आतंकवादी या जहादी बनाने की यहाँ तो ये नीच देसाई जैसे ही काफी है . अब समझ में आ रहा है की क्यों मुहमद गौरी , औरंगजेब तुगलक काशिम, टीपू सब क्यों सफल हुए एन कमीनो की वजह से | ये कभी राक्षसों का विश्लेषण नहीं करते \ हिन्दू और हिंदुयों के पोसक को गर्त में गिराने में लगे रहते हैं | सपा , बसपा और कांग्रेस तीनो के तीनो उसे संलिप्त थे | उनका कोई जिकर नहीं | आभी तक मुसलमानों को मरवाने का आरोप लगा लगा कर रो रहे थे आज हिंदुयों को मरवाने का भिओ आरोप. जड़ में जयो तब पता चलेगा | जिन राज्यों का जिकर किया है वे सब आतंकवाद के पोसक है जिन्हें धर्म निरपेक्षता का नाम देकर देश द्रोही ताकतों को खुली छूट दी जाती है और पूरे प्रसासन को निर्तेसित किया जाता है की कोई भी FIR अल्पसंख्यकों के विरूद्ध न लिखी जाये | और जब परिणाम आता है जो मुज्जफर नगर जैसा रिजल्ट आता है . जिसमे AK ४७ तक का उपयाग होता है वो किस के पास से मिलते हैं | इसके लिए मोदी नहीं नीच दासी जैसे राक्षश जिमेमेदार है जो सिर्फ अपने स्वार्थ की वजह से खुद को भी मिटाने में जरा नहीं झिझकते हैं .वहा घाट लगा कर हमला किया गया मुसलमानों द्वारा मरे गए हिन्दू नाम मोदी का गिरने की भी कोई हद होती है |
    |

  9. wah riya sharma ji . musalman kisi ladki se chedkhani kare to choti si ghatna or hindu kare to aurat ka apman. hindu apni izzat or jaan bachane k liye ladai kare to atyachari or musalman bina baat k kisi ko maar de to bechara minority community se h or is desh me apne aap ko insecure feel kar rha h

  10. Ramen Das says:

    Absolute bullshit…
    the blatant communal policies and minority appeasement of SP and Congitards is nothing but you have to pull Modis name when he is nowhere near the scene… with brainless philistines like you, this country doesn't need enemies… fuck yourself nachiketa

  11. Naman says:

    मर, एडिटर यू किसी भी शख्स किसी भी चीज़ से खुश नहीं लगते हो आप दुनिया के सब से दुखी प्राणी हे ऐसा लगता हे आप हर चीज़ में हर किसी को गलत कहते हो . मुझे लगता हे आप आपने घर और फॅमिली दोनों ही जगह न खुश हो

    कृपया अपने विचारो में स्थिरता लाये

    आप मोदी को गलत कहे सकते हे लेकिन अगर वो गलत हे तो आप लीड करे सही बताये ( कुछ भी लिखना ये tikh नहीं आप सिर्फ सस्ती पत्रकारिता के नाम पर paiसा बने का प्रयास कर रहे हे )

    हर किसी में गलती देखने वाले को आपने आप में भी जख कर देखना छाए ( इट्स नोट अ सलूशन आप हर किसी को गलत कहे )

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

पाकिस्‍तान ने नहीं किया लेकिन भाजपा ने कर दिखाया..

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: