Loading...
You are here:  Home  >  राजनीति  >  Current Article

बीजेपी का तमाशा है मोदी की रैली में मुसलमान…

By   /  September 21, 2013  /  2 Comments

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

विधानसभा चुनावों से ठीक दो महीने पहले मध्य प्रदेश में हो रही मोदी की रैली को लेकर कांग्रेस ने आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है और इसे बीजेपी का तमाशा बताया है.

डेमो फोटो

डेमो फोटो

एक तरफ बीजेपी का दावा है कि नरेंद्र मोदी द्वारा संबोधित की जाने वाली इस रैली में 50 हजार मुसलमान इकट्ठा होंगे. वहीं स्थानीय पूर्व कांग्रेज नेता गुफरान आजम ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर कहा कि यह सब ढोंग है. उन्होंने कहा कि इस “कार्यकर्ता महाकुंभ” रैली में जो मुसलमान दिखेंगे, वो दरअसल बीजेपी के कार्यकर्ता ही होंगे जो टोपी पहन कर रैली में आएंगे. और बीजेपी महिला कर्मचारी बुर्का पहन कर इस रैली में शामिल होंगी.

गुफरान आजम का कहना है कि इस रैली में अगर कोई मुसलमान आया भी तो वो बस खौफ के कारण शामिल होगा. उन्होंने यह भी कहा कि संघ के लोगों को दाढ़ी बढ़ाने को कहा गया है. और मध्यप्रदेश बीजेपी द्वारा हजारों बुर्के और टोपियां भी खरीदी गई हैं. इन सारे लोगों को इकट्ठा किया जाएगा और एक साथ बैठाकर इस तरह दिखाया जाएगा कि नरेंद्र मोदी मुसलमानों के साथ हैं.

आजम खान ने कहा कि बीजेपी ने एक लिस्ट बनाई है, जिसमें 50 हजार लोगों के नाम और पते लिखे हुए हैं. ऐसी लिस्ट बनाने में कौन सी बड़ी बात है? ऐसी कोई भी लिस्ट मैं भी बना सकता हूं. इसकी वास्तविकता की जांच कौन करेगा ? आजम खान का कहना है कि सिर्फ 5 प्रतिशत लोग ही ऐसे होंगे जो इस रैली में आऩे वाले वास्तविक मुसलमान होंगे.

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email

About the author

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक “मुखौटों के पीछे – असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष” में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.

2 Comments

  1. GUFRAANE AAZAM KHUDA KE BHRJE HUYE FARISE HAI JO 25/09//13/ KO KAIY HONGA VO SAN JAANET HAI KI LO TOPIWALE AAYNGE BE ”MUSALMA NAH I HONGE ./ [2]/ B J P KE HI KARIYKARTA TOPI PAHANKAR KHADE HONGE/[3] BURKE MAI BH MUSALMAN KOM KE LONG NAHI HONGE OUUR JO MUSALMAN HONGE VO KHOF JAZAD LOG [MUSALMAN] HI HONGE AAKHIR KOYEE IEK BBT TO TAIY KAR LO KI GUFRANE AZZAM SAHAB JO AAP KAHARAHE HAI KEWAL BAHI SACH HONGA OUR JO SAAMNE HONGA WAH SAB GALAT HONGA YAHI TI KHASIYA HAI CONGRES KI JO JANAT SAB JAANTI HAI AAP KI KHUDAYEE WAHI RAH JAAYEGI OUR AAP IEK MUSALMAN HIA JO KEWAL SAB AAGE SE JO NAHI HOUYA HAI BO HI SACH HONEWALA HAI

    • रमण पाल says:

      इतना गुस्सा क्यों रहे हो. यह तो बता दो कि भोपाल रैली के लिए मध्यप्रदेश बीजेपी ने दस हज़ार बुर्के क्यों खरीदे हैं? क्या भाजपा कार्यकर्ता अब निक्कर छोड़ बुर्का पहनेगें?

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

पाकिस्‍तान ने नहीं किया लेकिन भाजपा ने कर दिखाया..

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: