/15 वीं मारुति सुजुकी रेड डी हिमालय कार रेस में दो हिमाचली महिलायें…

15 वीं मारुति सुजुकी रेड डी हिमालय कार रेस में दो हिमाचली महिलायें…

रेड Xtreme प्रतिस्पर्धा में एकमात्र महिला, धर्मशाला की शुचि ठाकुर..शिमला पुलिस की ऋचा सिंह मारुति सुजुकी रेड डी हिमालय में प्रतिस्पर्धा में भारत की पहली महिला पुलिस प्रतियोगी…

-अरविन्द शर्मा|| 

धर्मशाला, 4 अक्टूबर से 12 अक्टूबर तक शिमला से शुरू होने वाली रेड -डी- हिमालय कार रैली में, देश में सबसे लंबे समय तक रेस करने वाली महिला रैलिस्ट, धर्मशाला की शुचि ठाकुर भाग ले रहीं है. यह शुचि की लगातार नौवें रैली है, परन्तु इस प्रतियोगिता में शुची ही केवल एकमात्र महिला प्रतियोगी नहीं है. भारत की नम्बर एक तथा सबसे कठिन कार रैलियों में से एक, रेड -डी- हिमालय में अन्य महिलाओं ने भी उत्साह दिखाते हुए, भाग लेने के लिए पंजीकरण कराया है. मारुति सुजुकी रेड -डी- हिमालय मोटर स्पोर्ट, दस सबसे मुश्किल उच्चतम पर्वत दर्रों, खार्दूंग ला और वारी ला के माध्यम से गुजरती हैं, जो दुनिया की कठिनतम इलाकों में गुजरता है, इस प्रतियोगीता में महिलाओं की भागीदारी बढ़ा, आकर्षण का केंद्र बन जाता है.shuchi  thakur

आयोजकों में से एक ने बताया की रैली में फौज की एक महिला टीम भी भाग ले रही है जिसमे ए एस सी की मेजर समिथा और ई एम ई की कैप्टन माधवी सिंह की सभी महिला अधिकारियों की टीम है. वे रेड की साहसिक श्रेणी में एक समय गति दूरी में मारुति जिप्सी चलायेंगीं. इसी वर्ग में हिमाचल पुलिस की ऋचा सिंह भी भाग लेंगीं.

इसके अतिरिक्त मुंबई की शीतल बिदाये रेड एक्सट्रीम वर्ग की प्रतिस्पर्धा में भाग ले रहीं है. वह पहली भारतीय महिला बाइकर है जो तेज़ गति की इस प्रतियोगिता में भाग लेंगीं. पहली बार भाग लेने वालों में से एक, फर्ग्यूसन कॉलेज, पुणे की 20 वर्षीय छात्रा, कल्याणी पाटेकर भी है. यह नौसिखिये शौकिया बाईकर्स के लिए वर्ग है.

रेड -डी- हिमालय कार रैली के आयोजकों ने बताया कि शिमला पुलिस की ऋचा सिंह मारुति सुजुकी रेड डी हिमालय में प्रतिस्पर्धा में भाग लेने वाली भारत की पहली महिला पुलिस अफसर है. रिचा ( 25 ) एक कुशल चालक है और उसके पेशेवर उत्कृष्टता के लिए हिमाचल पुलिस द्वारा उन्हें कई वार सराहना मिली है. रिचा को, 15 वीं मारुति सुजुकी रेड डी हिमालय का हिस्सा बनने के लिए हिमाचल पुलिस द्वारा नामित किया गया है. वह मुनीश मेहता, के साथ प्रतियोगिता में भाग लेंगी. वर्तमान में, शिमला में पुलिस मुख्यालय पर तैनात यह हिमाचल पुलिस की एक टीम पहली बार रेड डी हिमालय में भाग लेने के लिए जा रही है. इस बारे रिचा ने कहा, “ मैं बहुत उत्साहित हूँ” कहा, और मुझे लगता है कि मेरे विभाग ने मुझे जो मौका दिया है उसके लिए बहुत खुश हूँ. उन्होंने 2008 में हिमाचल पुलिस नौकरी शुरू की है.

15 वीं मारुति सुजुकी रेड डी हिमालय में तीन प्रतियोगी श्रेणियां हैं. ये रेड Xtreme ( 4X4 वाहनों ), रेड Xtreme ( मोटरसाइकिलें और Quads) और रेड साहसिक हैं. रेड Xtreme के सभी चार पहिया वाहन और मोटरसाइकिल दोनों के लिए एक उच्च गति भीड़ के बारे में है. रेड साहसिक समय स्पीड दूरी ( TSD ) स्वरूप इस प्रकार है.

रेड Xtreme में प्रतिस्पर्धा है जो केवल मात्र एक महिला धर्मशाला हिमाचल ( भारत ) की शुचि ठाकुर है. रेड Xtreme में लगभग 35 टीमों भाग ले रहीं हैं. प्रत्येक टीम में एक ड्राइवर और एक नाविक शामिल हैं. शुचि इस प्रतियोगिता में एक मारुति जिप्सी ड्राइव करेंगे. शुचि देश के सबसे लंबे समय तक चलने वाली महिला rally.st है. यह उसे नौवां खेल है. शुचि वर्तमान में काम कर रहे हैं और मुंबई में रह रहा है.

मारुति सुजुकी रेड -दी- हिमालय 1999 में शुरू हुई जो सर्वोच्च ऊंचाई और हिमाचल प्रदेश, लद्दाख और लेह के कठिन इलाकों के लिए प्रतिवर्ष अक्टूबर में आयोजित की जाती है.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.