Loading...
You are here:  Home  >  अपराध  >  Current Article

मा सी ने कराया युवती से रेप…

By   /  October 18, 2013  /  1 Comment

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

सात जन्मों तक साथ देने का वादा करने वाले पति ने डेढ़ साल पहले आत्महत्या कर ली. लिव इन रिलेशन में रह रही मौसी के घर सहारा लिया तो मौसी के प्रेमी ने जान से मारने की धमकी देकर कथित तौर पर दुष्कर्म किया. साथ में जान से मारने की धमकी देकर घर से निकाल दिया. पुलिस ने मौसी सहित दो को गिरफ्तार कर लिया है. शुक्रवार को उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा.1777_S_rape-l

भिवानी की 24 वर्षीय युवती ने बताया कि उसकी 35 वर्षीय मौसी पूनम पति की मौत के बाद लिव इन रिलेशनशिप में फतेहपुरी कॉलोनी निवासी धर्मल के साथ रही है. पति की मौत के बाद वह भी मौसी के साथ रहने लगी. मौका पाकर उसकी मौसी ने अपने कथित प्रेमी के हवाले कर दिया. आरोपी ने जान से मारने की धमकी देकर उससे दुष्कर्म किया.

इसके बाद तो यौन उत्पीडऩ का सिलसिला शुरू हो गया. मौसी ने अपने परिचित करेला निवासी रोहतास को भी बुला लिया. उससे जबरन देह व्यापार कराया. सब्जी मंडी चौकी के एएसआई ने पीडि़त के बयान पर दुष्कर्म, देह व्यापार व जान से मारने की धमकी के आरोप में पीडि़त की मौसी व सहयोगी रोहतास को काबू किया है.

डीएसपी कर्ण गोयल ने बताया कि मामले में नामजद धर्मल मूल रूप से जींद जिले के जुलाना कस्बे का रहने वाला है, जो स्वर्ण समुदाय से है, जबकि पीडि़त अनुसूचित जाति से हैं. ऐसे में मामले में एससी/एसटी एक्ट के तहत भी कार्रवाई होगी. वे खुद मामले की जांच पड़ताल कर रहे हैं.

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email

About the author

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक “मुखौटों के पीछे – असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष” में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.

1 Comment

  1. mashi ka mtalab hota hia ma jishia ma sabhia jadapyar kranya waliya mashia ya to dayan ban gaey mashia koa bhia fasia hona chahiya mashia kia mryada koa tar tar kar diya

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

पनामा के बाद पैराडाइज पेपर्स लीक..

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: