Loading...
You are here:  Home  >  अपराध  >  Current Article

शिक्षक ने छात्र को पीट कर पहुंचाया अस्पताल

By   /  November 30, 2013  /  1 Comment

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

मुंबई में एक स्कूली छात्र को अपने हेयर स्टाइल के चलते भारी यातना का शिकार होना पड़ा। 13वर्ष के छात्र को उसके पीटी टीचर ने लात,मुक्कों,घुसो से इतनी बुरी तरह मारा कि बच्चे को आईसीयू में भर्ती होना पड़ा। बहरहाल, पुलिस ने टीचर के खिलाफ़ आईपीसी की धारा 323 के तहत मामला दर्ज करके पूछताछ शुरू कर दी है। मामला गुरूवार का है जब उल्हासनगर का अक्शान जयसिंघानी अपनी कक्षा में बैठा था। उसी वक़्त पीटी टीचर मोहित लाडे और श्रीपद भोसले क्लास में आए और अक्शान के लंबे बालों से इतना गुस्से में आ गए कि पहले उन्होंने छात्र को खूब डांटा फटकारा और हद तो तब हो गई जब मासूम बच्चे पर इससे भी आगे बढ़ते हुए उन्होंने तीन थप्पड़ मारे।

पीड़ित छात्र

पीड़ित छात्र

शायद छात्र ने तो कल्पना तक न की होगी कि उसका ये हेयर स्टाइल उसके टीचर को इस कदर नागवार गुज़रेगा। डरा और सहमा हुआ अक्शान अपने पर गुज़री को सुनाते हुए बताता है कि टीचर ने क्लास से जाते वक्त उसके सिर में ज़ोर से घूंसा मारा जिससे उसके सिर में सूजन आ गई। वो संभल पाता उससे पहले ही दूसरे टीचर ने उसको ज़ोर से लात मार दी। अक्शान की माने तो मोहित और भोसले ने उसके सिर में कई घूंसे मारे और शरीर पर लगातार लातों से हमले किए जिससे उसकी हालत बेहद ख़राई हो गई। बेरहमी से बच्चे की पिटाई होते देख भीड़ जमा हो गई।

जहां आज सवाल होना चाहिए कि क्या इतनी छोटी उम्र के बच्चों से कितनी नरमी से बर्ताव किया जाए ताकि वो अपनी हर परेशानी को बड़े-बूढ़ो के साथ बिना डरे साझा करे वहीं इस मामले में कुछ और ही देखा गया। अक्शान के अनुसार जब उसने अपने पिता को मामले की पूरी जानकारी दी और पिता स्कूल आए तो  स्कूल मालिक ने पिता-पुत्र को ही धमका दिया। मालिक ने कहा कि इसे पास होना है या नहीं ?

इन सभी के बीच अक्शान के पिता पुलिस कार्रवाई से संतुष्ट नहीं हैं। उनका कहना है कि इतना सब हो जाने के बाद भी पुलिस ने इसको गंभीरता से नहीं लिया, जिसके बाद उन्हें आईजी और एसपी को इसकी शिकायत करनी पड़ी।

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email

1 Comment

  1. mohiat and bhoasly koa turat saspndy kiya jay ta ki ya mastar nhia sytan hia enkoa lgta hia awlad nhia hia agar awlad hota toa etna juram nhia krtya
    bchya to gltiya krtya hia hia ean kamino koa sakta sa skta sja milna chahiya
    jya hiand jya bharat

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

पाकिस्‍तान ने नहीं किया लेकिन भाजपा ने कर दिखाया..

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: