/मतदान के बाद आये सर्वे से कांग्रेस की नींद उड़ी…

मतदान के बाद आये सर्वे से कांग्रेस की नींद उड़ी…

दिल्ली विधानसभा चुनाव में 70 सीटों पर हुए मतदान के बाद आए सर्वे से कांग्रेस की नींद उड़ी हुई है. एक तरफ सर्वे में कांग्रेस चारों राज्यों में पिछड़ती दिख रही है तो दूसरी तरफ दिल्ली में शीला दीक्षित अपनी सीट भी गंवा सकती हैं. एग्जिट पोल के मुताबिक नई दिल्ली सीट से मैदान में उतरीं शीला दीक्षित को केजरीवाल से हार का सामना करना पड़ सकता है. गौरतलब है कि इसी सीट से अरविंद केजरीवाल भी मैदान में हैं. बीजेपी ने नई दिल्ली से विजेंद्र गुप्ता को मैदान में उतारा है.arvind_kejriwal

इंडिया टूडे ग्रुप के लिए ओआरजी ऐक्जिट पोल के मुताबिक केजरीवाल नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र में 36 पर्सेंट वोट शेयर के साथ पहले नंबर पर रहेंगे. वहीं शीला दीक्षित 31 पर्सेंट वोट के साथ दूसरे नंबर पर होंगी. बीजेपी से विजेंद्र गुप्ता 28 पर्सेंट वोट के साथ इस सीट पर तीसरे नंबर पर रह सकते हैं.

एबीपी न्यूज-नीलसन एक्जिट पोल के मुताबिक भी शीला दीक्षित को केजरीवाल से हार का सामना करना पड़ सकता है. आम आदमी पार्टी की झोली में सेंट्रल दिल्ली की तीनों सीटें जा सकती हैं. सर्वे के मुताबिक आम आदमी पार्टी की मजबूत मौजूदगी के कारण कांग्रेस बैकफुट पर दिख रही है. यदि सर्वे सही साबित हुआ तो दिल्ली में लगातार तीन बार से शानदार जीत हासिल कर रहीं मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के लिए करारा झटका होगा.

ओआरजी सर्वे के मुताबिक 70 सीटों वाली दिल्ली विधानसभा में बीजेपी को 41 सीटें मिल सकती हैं. जबकि इस सर्वे में कांग्रेस को 20 और आम आदमी पार्टी को महज 6 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है. नीलसन ने भी बीजेपी को दिल्ली में 33% वोट और 37 सीटों के साथ स्पष्ट बहुमत मिलने की बात कही है. कांग्रेस को 29% वोट के साथ 16 सीटें और आम आदमी पार्टी को 28% वोट के साथ 15 सीटें मिलने का अनुमान है. पोल के मुताबिक नॉर्थ दिल्ली की कुल 18 सीटों में से बीजेपी 14 सीटों पर शानदार जीत हासिल कर सकती है, वहीं कांग्रेस और केजरीवाल को महज दो-दो सीटें मिलने का अनुमान है. कांग्रेस को पुरानी दिल्ली की 4 सीटों में से 3 सीटें मिलने की उम्मीद है. वहीं ईस्ट दिल्ली की कुल 16 सीटों पर बीजेपी और कांग्रेस को 6-6 सीटें मिल सकती हैं. साउथ दिल्ली की 12 सीटों पर बीजेपी 8 सीट पर कब्जा कर लीड कर सकती है. जबकि आम आदमी पार्टी को यहां दो सीटों पर कामयाबी मिलने की संभावना है. सर्वे के मुताबिक वेस्ट दिल्ली की 17 सीटों पर बीजेपी का 8 पर कब्जा हो सकता है वहीं कांग्रेस और आप को 4-4 सीटें मिलने की उम्मीद है.

ओआरजी पोल के मुताबिक दिल्ली में मुख्यमंत्री के दावेदार शीला दीक्षित और अरविंद केजरीवाल से हर्षवर्धन ज्यादा लोकप्रिय हैं. सर्वे के मुताबिक 37% लोग हर्षवर्धन को पसंद करते हैं वहीं शीला दीक्षित 29 पर्सेंट लोगों की पसंद के साथ दूसरे नंबर पर हैं. अरविंद केजरीवाल को मुख्यमंत्री के रूप में 25 पर्सेंट लोग देखना चाहते हैं.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.