/दोस्तों के साथ मिलकर नाबालिग प्रेमिका को सामूहिक दुष्कर्म का शिकार बनाया…

दोस्तों के साथ मिलकर नाबालिग प्रेमिका को सामूहिक दुष्कर्म का शिकार बनाया…

लव, सेक्स और धोखा, कुछ यही हुआ कक्षा नौ की एक छात्रा के साथ. प्रेमी ने मिलने के बहाने उसे शुक्रवार को धोखे से बुला लिया और शहर की पॉश कालोनी में मोबाइल टावर के रूम में बंधक बनाकर दोस्तों के साथ मिलकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया.gangrape-6

पुलिस ने पीड़ित को मेडिकल के लिए भेजकर आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है.

रजबपुर थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति की बेटी हापुड़ जनपद के एक इंटर कालेज में कक्षा नौ की छात्रा है. उसका गांव के ही एक युवक से प्रेमप्रसंग चल रहा था. क्रिसमस की छुट्टी के चलते छात्रा इन दिनों घर आई हुई थी.

बकौल पुलिस शुक्रवार की दोपहर प्रेमी ने उसे शहर बुला लिया और अतरासी मार्ग से सटी पॉश कालोनी में बने एक मोबाइल कंपनी के टावर रूम में ले गया.

युवक ने छात्रा (प्रेमिका) को यहां बंधक बनाकर दोस्तों को बुला लिया. उसके साथ रातभर दरिंगदी हुई. उधर, परिजन बेटी की तलाश में इधर-उधर भटकते रहे. शनिवार की सुबह बदहवास हालत में घर पहुंची छात्रा ने आपबीती सुना दी.

पीड़ित को लेकर परिजन शहर कोतवाली पहुंच गए. शहर कोतवाल राजेंद्र सिंह धामा ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ अभियोग दर्ज कर लिया है.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.