/सबसे खराब और थर्ड ग्रेड लोग AAP में शामिल…

सबसे खराब और थर्ड ग्रेड लोग AAP में शामिल…

आम आदमी पार्टी पर तीखा हमला बोलते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने आप कार्यकर्ताओं पर अराजकता फैलाने का आरोप लगाया है.salman khurshid

उनका कहना है कि ये ‘अराजकवादी’ लोग सिस्टम को बर्बाद करने पर तुले हुए हैं और उनकी पार्टी में देश के सबसे खराब, घृणास्पद और थर्ड ग्रेड लोग हैं. खुर्शीद ने यह दावा भी किया कि आप लोकसभा चुनावों में किसी भी तरह से दौड़ में नहीं है.

उन्होंने एक निजी टीवी चैनल से कहा, ‘वे डायनासोर की तरह हैं. उनसे अराजकता की बू आती है. वे हर चीज को नीचा दिखाना चाहते है. उन्होंने सभी चीजों का मजाक बना रखा है. हमारे सिस्टम के लिए आप एक बड़ा खतरा है. वे हमारे सिस्टम को बर्बाद करना चाहते हैं.’

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को दावा किया था कि पिछले पांच दिनों में 10 लाख से ज्यादा लोग पार्टी से जुड़े हैं.

खुर्शीद ने आप कार्यकर्ताओं को थर्ड ग्रेड बताते हुए कहा, ‘आप पार्टी में देश के सबसे खराब और थर्ड ग्रेड लोग शामिल हो रहे हैं. मैंने जिलों का दौरा किया, जहां मैंने पाया कि सबसे खराब लोग आप पार्टी में शामिल हुए. वे लकी हैं क्योंकि हर बदबू को खुशबू बताया जा रहा है.’

उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली सरकार बनाने के 15 दिनों के भीतर ही उन्होंने ऐसे बहुत से काम किए हैं, जिससे संवेदनशील लोगों की धारणा को चोट पहुंची है.

एक सवाल का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आप लोकसभा चुनावों में रेस में नहीं है. उन्हें भूल जाइए. वे दिल्ली में भी हमारी बदौलत सरकार बना पाए हैं.

दिल्ली के सीएम की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा, ‘केजरीवाल अपनी सहूलियत के हिसाब से नियमों को बदल देते हैं. यह सब हमारे देश में चलने वाला नहीं है. जल्द ही उन्हें अपनी सीमाओं का पता चल जाएगा.’

(एजेंसी)

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.