Loading...
You are here:  Home  >  राजनीति  >  Current Article

छत्तीसगढ़ के सीएम राजा रमन सिंह के राजसी ठाठ….

By   /  January 19, 2014  /  1 Comment

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

राजाओं के ठाठ हमेशा निराले ही होते हैं और छत्तीसगढ़ के सीएम आखिर हैं तो राजा ही. अब राजा हैं तो उनकी रिहाइश आम जनता की तरह तो होगी नहीं. सो राजा रमन सिंह की रिहाइश भी उनके रुतबे के हिसाब होनी ही चाहिए. आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि सीएम साहब के लिए बनने वाला बंगले की कीमत इतनी है कि इसमें हजारों गरीबों के लिए इंदिरा आवास बनाए जा सकते हैं. सूत्रों की मानें तो, 12 एकड़ में बनने वाला सीएम निवास न्यू रायपुर में बनाया जाएगा जिसकी कीमत 81 करोड़ रुपए होगी.bjp-will-win-more-seats-than-predicted-says-raman-singh_061213035301

राज्य के सिविल इंजिनियर्स के एक ग्रुप के दावे के मुताबिक, 81 करोड़ रुपये में राज्य हाऊसिंग बोर्ड 1000 एलआईजी और 600 एमआईजी मकान बना सकता है. न्यू रायपुर डवलपमेंट अथॉरिटी का यह प्रस्ताव फिलहाल वित्त विभाग के पास है जिसके इंचार्ज खुद डॉक्टर रमन सिंह हैं.

raman-singh--14_011914114114सूत्रों ने बताया कि अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो अगले महीने से मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह के नए निवास का काम शुरू हो जाएगा. हालांकि, इस विवाद के तूल पकड़ने के बाद मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने अपने निवास का प्रस्ताव नए सिरे से बनाने की बात कही. वहीं, मीडिया में यह खबर लीक होने के बाद राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने बीजेपी पर निशाना साधा है.

कांग्रेस पार्टी ने कहा, ‘रमन सिंह जिस सादगी की बात करते रहे हैं, यह निवास उनकी असली मानसिकता को दर्शाता है.’ गौरतलब है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के 3 बेड रूम के मकान को लेकर सवाल खड़े करने वाली भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार के मुख्यमंत्री रमन सिंह अब अपने निवास को लेकर खुद विवादों में हैं.

दूसरी ओर न्यू रायपुर डिवेलपमेंट अथॉरिटी के सूत्रों का कहना है कि डॉक्टर रमन सिंह के लिए जो निवास बनाया जा रहा है, उसमें मुख्यमंत्री का ऑफिस और विशेष अतिथि गृह भी शामिल है. अथॉरिटी के मुताबिक, नक्सल प्रभावित राज्य होने के कारण सीएम निवास की लागत इतनी ज्यादा है.

वहीं मुख्यमंत्री का बचाव करते हुए बीजेपी ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी को राष्ट्रपति भवन और प्रधानमंत्री निवास के बारे में भी विचार करना चाहिए, जहां एक पूरा नगर बसाया जा सकता है. छत्तीसगढ़ की नई राजधानी रायपुर शहर से लगभग 25 किलोमीटर दूर बसाई जा रही है. इसे ‘न्यू रायपुर’ नाम दिया गया है. छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्रालयों सहित कई ऑफिस यहां बन चुके हैं और उनमें कामकाज भी शुरू हो चुका है. ताजा विवाद इसी न्यू रायपुर में बनने वाले मुख्यमंत्री निवास को लेकर शुरू हुआ है.

राज्य के कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला के मुताबिक, राज्य सरकार का हाउज़िंग बोर्ड 400 वर्ग फीट में गरीबों के लिए मकान बनाता है और जितनी जगह में अकेले मुख्यमंत्री का घर बनाया जा रहा है, उतने में केवल 58.50 करोड़ रुपये की लागत से 1300 मकान बन जाएंगे. शुक्ला के मुताबिक, 81 करोड़ रुपये में 16,200 इंदिरा आवास बनाए जा सकते हैं, जहां इतने ही परिवार को छत मिल जाएगी.’

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email
  • Published: 4 years ago on January 19, 2014
  • By:
  • Last Modified: January 19, 2014 @ 4:23 pm
  • Filed Under: राजनीति

About the author

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक “मुखौटों के पीछे – असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष” में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.

1 Comment

  1. usane khud file lautai galat khabar faila rahe hai raman vivado se pare hai ye ek chhattisgariya hi samajh sakta haii aap nahi samajhe sahab

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

पाकिस्‍तान ने नहीं किया लेकिन भाजपा ने कर दिखाया..

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: