/क्या कैंपा कोला सोसायटी को मिल रही बिजली पानी और गैस का कनेक्शन काट दिया जाएगा..

क्या कैंपा कोला सोसायटी को मिल रही बिजली पानी और गैस का कनेक्शन काट दिया जाएगा..

मुंबई की कैंपा कोला सोसाइटी के बाहर बाहर आज हलचल कम है. लेकिन लोगों की जान अटकी हुई है. कैंपा कोला सोसायटी के अवैध फ्लैट को खाली करवाने के लिए बीएमसी आज कोई कार्रवाई नहीं करेगी. पुलिस ने सोसायटी के बाहर से बंदोबस्त हटा लिए हैं. बीएमसी को 102 फ्लैट खाली करवाने थे.ab_kaha_jay

कैंपा कोला सोसाइटी के लोगों पर सरकारी काम में दखल देने और गलत इरादे से जमा होने का केस दर्ज कर लिया गया है. बीएमसी इस मामले में आगे कार्रवाई करेगी.

सोसाइटी के आसपास सन्नाटा पसरा है. कल जब बीएमसी की टीम यहां पहुंची थी तो लोगों ने गेट बंद कर लिया था. बहुत समझाने के बाद लोगों ने जब गेट नहीं खालो तो यह टीम बैरंग वापस चली गई. सोसायटी के लोगों ने दिनभर गेट बंद रखा और फ्लैट नहीं तोड़ने की गुहार करते रहे.

बीएमसी ने कल ही लोगों को यह साफ कर दिया था कि अब इस सोसायटी को मिल रही बिजली पानी और गैस का कनेक्शन काट दिया जाएगा.

बीएमसी ने कैंपाकोला सोसायटी में कार्रवाई के लिए 20 जून की तारीख तय की थी. संकट को टालने के लिए सोसायटी के लोग हवन-पूजन करते दिखे.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.