/हार्ड कौर के फीफा गीत का वीडियो लॉन्च..

हार्ड कौर के फीफा गीत का वीडियो लॉन्च..

हार्ड कौर का फीफा गीत “गोल मार गोल मार” पहले ही फुटबॉल प्रेमियों में लोकप्रिय हो चुका है अब उसका वीडियो भी लॉन्च हो गया है.hard kaur

हार्ड कौर तो खुश हैं ही इसके लॉन्च से, इसके साथ – साथ फुटबॉल के प्रशंसक भी खुश हैं. क्योंकि यह वीडियो बहुत ही मजेदार है इसे सुनकर जितना मज़ा उन्हें आता था अब वीडियो देख कर भी आ रहा है.

कई अलग – अलग भाषा में गाये इस गीत को लिखा और संगीतबद्ध भी हार्ड कौर ने ही किया है साथ में वीडियो में भी हार्ड कौर ही दिखाई दे रही हैं.

हार्ड कौर से पूछने पर कि अब जबकि फीफा के सेमी फायनल मैच होने वाले हैं तो इस गीत के वीडियो को इतनी देर से लॉन्च करने की कोई खास वजह ? “वजह यही कि अब जबकि सेमी फायनल और फायनल मैच होने वाले हैं तो ऐसे में दर्शकों में रोमांच के साथ साथ टेंशन भी है तो इसे देख कर और सुनकर उन्हें काफी अच्छा लगेगा. फायनल में विश्व की सबसे सर्वश्रेष्ठ टीम ही पंहुचती तो मुझे तो लगा की यह सबसे अच्छा समय है वीडियो लॉन्च करने का.”

“गोल मार गोल मार” वीडियो की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें गीत के हरेक बोल के मुताबिक ही विजुवल लिए गए हैं. हिप हाप स्टाइल में गाये इस गीत को देख और सुनते हुए अपनी – अपनी पसंद की टीमों के लिए चीयर करें और लुत्फ उठाये फीफा का.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.