/उत्तर प्रदेश विधान सभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित..

उत्तर प्रदेश विधान सभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित..

उत्तर प्रदेश विधान सभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई है.up-assembly

उत्तर प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र 18 जून से शुरू होकर 18 जुलाई तक चलना था, लेकिन सरकार को सत्र के दौरान सदन में काफी फजीहत झेलनी पड़ी. इस कारण सत्र को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया.

पूर्ण बहुमत की अखिलेश यादव सरकार ने इस बार बजट सत्र के पहले ही दिन से फजीहत झेली. किसी तरह से शोर शराबे के बीच बजट पास कराए गए. शायद ही कोई ऐसा दिन रहा हो जब विधानमंडल के दोनों सदन में हंगामा न हुआ हो.

आज सदन में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मौजूदगी में भी जमकर हंगामा हुआ. हंगामे के बीच आनन- फानन में शेष कई विभागों के बजट को पारित कर बजट सत्र को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने का निर्णय लिया गया.

एक घंटे में 60 विभाग के बजट को पास कराया गया.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.