/भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बोले नागिन जैसा बदला लेगी पार्टी..

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बोले नागिन जैसा बदला लेगी पार्टी..

 

उत्तर  प्रदेश  के भाजपा इकाई के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने मुरादाबाद में जारी  विवाद में एसएसपी धर्मवीर सिंह यादव को सीधी धमकी दी है. शनिवार को मुरादाबाद में बाजपेयी ने कहा कि  भाजपा और  कार्यकर्ताओं ने एसएसपी को आँखों में उतार  लिया है और उनकी तरफ से शुरू हुयी दुश्मनी को दूर तक निभाया जाएगा.hqdefault
वाजपेयी ने धर्मवीर सिंह यादव पर सत्तारूढ़ पार्टी के लिए काम करने का आरोप लगाते हुए कहा “कप्तान साहब को ध्यान देना चाहिए कि वो मतान्ध हो कर कार्य न करें। यूपी में एसपी की सरकार अधिकतम तीन साल रहेगी… भगवान की मार धीरे से चिपकती है… पता नहीं परिवार में किस पर चिपक जाए। हम कोई असंवैधानिक काम नहीं करेंगे। एसएसपी को समाजवादी पार्टी की चाकरी करनी हो तो करें।”
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने इसके आगे कहा कि एसएसपी जनता की सेवा के योग्य नहीं रह गए हैं  मुख्यमंत्री आवास पर तैनात किया जाना चाहिए। गौरतलब है कि मुरादाबाद के एसएसपी धर्मवीर यादव कांठ में हुए बवाल के लिए बीजेपी और उसके स्थानीय सांसद सर्वेश सिंह को जिम्मेदार ठहराने को लेकर बीजेपी के निशाने पर हैं। यादव ने तब कहा था, ‘बीजेपी यहां माहौल खराब करने की फिराक में है और ये  सब सर्वेश सिंह के इशारे पर हो रहा है जो कि होने वाले उपचुनावों वजह से ये सब करवा रहे हैं.”
कांठ में 26 जून को लाऊड स्पीकर  लेकर विवाद हो गया था जिसके बाद भाजपा के 82 कार्यकर्ता  जेल में हैं और एसएसपी यादव  तब से भाजपा के निशाने पर है. कांठ में इसके बाद से भाजपा नेताओं का आना जाना लगा है और बाजपेयी भी इसी सिलसिले यहां आये थे आये थे.

 

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.