कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे [email protected] पर भेजें | इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है। पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं। हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो। आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें -मॉडरेटर

कामोत्तेजक पत्र अब नहीं रहे राज़..

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

ब्रजेश उपाध्याय

बीबीसी संवाददाता, वॉशिंगटन||

अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति के अपनी प्रेमिका को लिखे लगभग एक हज़ार से ज़्यादा अति कामोत्तेजकपत्र सार्वजनिक कर दिए गए हैं.140730031847_us_president_harding_624x351_bbc

लगभग सौ साल पहले पूर्व राष्ट्रपति वॉरेन हार्डिंग की लिखी गई ये चिट्ठियां सेक्स से जुड़े शब्दों की वजह से इंटरनेट पर वायरल हो गई हैं. इन पत्रों में बेहद खुली भाषा का प्रयोग किया गया है और न्यूयॉर्क टाइम्स अख़बार का दावा है कि किसी राष्ट्रपति के हाथों लिखे गए ये सबसे कामुक पत्र हैं.

इन पत्रों में क्या लिखा गया है और क्यों हो रही है इनकी चर्चा

हार्डिंग ने ये पत्र ओहायो राज्य में रहनेवाली अमरीकी महिला कैरी फ़ुल्टन फ़िलिप्स को 1910-1920 के दौरान लिखे थे. तब वो अमरीकी कांग्रेस में सीनेटर थे.

हार्डिंग 1921 से 1923 तक अमरीका के राष्ट्रपति रहे और कार्यकाल के दौरान ही उनकी मौत हो गई. उनकी गिनती अबतक के सबसे नाकामयाब राष्ट्रपतियों में होती है और उनके प्रशासन पर भ्रष्टाचार के भी आरोप थे.

इंटरनेट पर इन चिट्ठियों की चर्चा फ़िलहाल सिर्फ़ उसकी भाषा की वजह से हो रही है. इसमें उन्होंने अपने गुप्तांग का नाम “जेरी” रखा हुआ है और जेरी का अक्सर ज़िक्र किया गया है.

चर्चा में पत्र

एक पत्र में उन्होंने लिखा है, “जेरी की तरफ़ से क्रिसमस की शुभकामनाएं. अगर मैं आया तो वो भी आएगा. क्या उसका स्वागत होगा?”

अमरीकी टीवी कॉमेडी शो में भी इन पत्रों का ख़ासा ज़िक्र हो रहा है.

फ़िलिप्स के साथ हार्डिंग की मुलाक़ात 1905 में हुई थी. वो उनके सबसे करीबी दोस्त की पत्नी थीं और ये रोमांस उनके राष्ट्रपति बनने तक जारी रहा.140730032437_carri_fulton_624x351_bbc

राष्ट्रपति हार्डिंग के प्रेमप्रसंग के बारे में अफ़वाहें तो उनके कार्यकाल के दौरान भी थीं लेकिन ये पत्र सबसे पहले 1964 में इतिहासकार फ्रांसिस रसेल के हाथ लगे. उस समय हार्डिंग परिवार ने मुकदमा दायर करके उनके प्रकाशन पर रोक लगा दी थी.

इन चिट्ठियों को हासिल करने के बाद हार्डिंग के परिवार ने इन्हें ‘लाइब्रेरी ऑफ़ कांग्रेस’ को इस शर्त के साथ दिया था कि उन्हें 50 साल तक सीलबंद रखा जाएगा.

हाल के बरसों में इन पत्रों को संभालने की ज़िम्मेदारी लाइब्रेरी ऑफ़ कांग्रेस में कैरेन लिन फ़िमिया की थी.

रोचक जानकारी

कैरेन फ़िमिया ने बीबीसी को बताया कि अगर लोग प्रेमालाप वाले हिस्सों से हटकर इन्हें पढ़ें तो इनमें प्रथम विश्व युद्ध में अमरीकी चुनौतियों के बारे में काफ़ी रोचक जानकारी है.

एक पत्र में हार्डिंग को जर्मनी के साथ सहानुभूति व्यक्त करते हुए पाया गया है जबकि अमरीका ने उस वक्त जर्मनी पर हमला कर रखा था.

उनकी प्रेमिका फ़िलिप्स के बारे में भी अफ़वाहें थीं कि वो जर्मनी के लिए जासूसी कर रही थीं.

लेकिन ज़ाहिर है इन चिठ्ठियों की चर्चा कूटनीति और राजनीति से प्रेरित नहीं है.

 

(बीबीसी हिंदी से साभार )

 

Facebook Comments
Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं
Share.

About Author

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

%d bloggers like this: