/आरएसएस कार्यकर्ता चाहता है महिलाओं का हो बलात्कार..

आरएसएस कार्यकर्ता चाहता है महिलाओं का हो बलात्कार..

170px-Venus_symbol.svgसोशल नेटवर्किंग साइट्स धीरे धीरे विवादों का घर बनती जा रही हैं. ताज़ा मामले में भारतीय जनन विजनन समिति (बीजेवीएस) ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कथित कार्यकर्ता वीआर भट्ट के विरूद्ध ऍफ़आईआर दर्ज करवाई है. भट्ट सोशल मीडिया पर खुद को संघ का महत्वपूर्ण और सक्रिय कार्यकर्ता बताते हैं. भट्ट पर सोशल नेटवर्किंग साईट पर महिला विरोधी आपत्तिजनक बातें लिखने और भड़काऊ सामग्री साझा करने का आरोप है.

एन प्रभा, जो कि बीजेवीएस की राज्य सचिव हैं, ने भट्ट की उस पोस्ट को मद्देनज़र रखते हुए ऍफ़आईआर दर्ज करवाई है जिसमें भट्ट ने लिखा है कि सनातन धर्म के विरुद्ध सोच रखने वाली महिलाओं के साथ बलात्कार होना ही चाहिए और अगर ऐसा हो रहा है तो गलत नहीं हो रहा है. पुलिस ने जांच शुरू कर दी है.

प्रभा के अनुसार भट्ट ने फेसबुक पर एक पोस्ट साझा की थी जिसमें उन्होंने लिखा था कि पूजा पाठ और धर्म के साथ पुजारी बने रहना लोगों पर असर डालता है और विज्ञानं चाहे जितनी कोशिश कर ले धर्म का कुछ बिगाड़ नहीं सकता.  इसी पोस्ट पर एक महिला की टिप्पणी के जवाब में उन्होंने कहा.”आप सनातन धर्म के बारे में क्या जानती हैं? आप जैसे भगवा धारियों को बैन कर दिया जाना चाहिए. आप लोग बलात्कार के योग्य हैं और आप लोग के साथ ऐसे ही व्यव्हार किया जाना चाहिए.”

इसके बाद प्रभा ने बंगलुरु में अपने निकटतम पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज करवाई. भट्ट के ऊपर महिला को धमकाने और बलात्कार की धमकी दे कर डराने का आरोप है और उन पर संचार माध्यम का दुरूपयोग करने के लिए भारतीय दंड संहिता की धारा 66a, जानबूझ कर मानहानि के लिए धारा 504, और आपराधिक मंशा के साथ कार्यवाही के लिए धारा 506 लगायी गयी है. फ़िलहाल भट्ट की गिरफ़्तारी नहीं हुयी है और पुलिस उन्हें खोज रही है.

 

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं