/पत्नी को घर पर छोड़ प्रेमिका संग रंगरेलियाँ मनाते थे दरोगा जी..

पत्नी को घर पर छोड़ प्रेमिका संग रंगरेलियाँ मनाते थे दरोगा जी..

बरेली। रंगीन मिजाज खाकी वाले इस बार बुरे फंस गए। पत्नी पर जुल्म ढाते थे और प्रेमिका के साथ सैर-सपाटा करते थे। उनका नाम महिला सिपाही से कई तरह से जोड़ा गया। जांच पड़ताल हुई तो सच्चाई सामने आ गई। कानून और अफसरों की निगाह में दारोगा जी दोषी पाए गए तो उनकी थानेदारी छीन ली गई। फिलहाल चेतावनी देकर उन्हें पुलिस लाइंस भेज दिया गया है।11_09_2014-daroga11

कम उम्र के एक तेज तर्रार दारोगा जी पर इश्क का भूत चढ़ा तो खुद के लिए वक्त बनाना शुरू कर दिया। बच्चों को उत्तराखंड के बोर्डिग स्कूल भेज दिया। थानेदार थे इसलिए आवास के लिए पत्नी को साथ रखना जरूरी था। उन्हें आवास में ही रखा, मगर खुद कम ही रहते थे। अक्सर घूमने निकल जाते थे। प्रेमिका पर खूब नोट उड़ाते थे। हावभाव और बढ़ते खर्च पर पत्नी ने निगाह रखी तो दारोगा जी की प्रेम कहानी के पर्ते खुलकर सामने आने लगीं।

पिछले दिनों घर में बहाना बनाया और प्रेमिका को लेकर नैनीताल की वादियों में निकल गए। इसकी जानकारी बीवी हुई तो वह बिफर गईं। दारोगा जी घर लौटे तो उन्होंने बखेड़ा खड़ा कर दिया। दारोगा जी की करतूत को उन्होंने रिश्तेदारी में सरेआम कर दिया। दारोगा और अपने परिवार के लोगों को बता दिया कि वे क्या गुल खिला रहे हैं। इससे भड़के दारोगा जी ने पत्नी पर हाथ छोड़ दिया। नाराज पत्नी ने भी मोर्चा खोल दिया और पुलिस के उच्चाधिकारियों को रात में फोन कर पति की शिकायत की दी।

अफसरों के सामने पेश हुई दारोगा की पत्नी

अधिकारियों ने अगले दिन एसओ साहब की पत्नी को चुपके से कार्यालय बुला लिया। शिकायती पत्र लेने के बाद उसकी जांच कराई गई। महिला कांस्टेबल और एसओ साहब के मोबाइल फोन की लोकेशन दो दिन तक एक साथ नैनीताल में थी। यही नहीं कॉल डिटेल में दिन में कई-कई बार फोन पर बात होने का खुलासा हो गया। चूंकि महिला कांस्टेबल की तैनाती बरेली में अन्यत्र है इसलिए एसओ साहब की रोज दस-बारह बार बात होने का कोई मतलब नहीं था।

इसके अलावा दोनों ओर से रात में एसएमएस भेजे जाते थे, दोनों फेसबुक और व्हाट्स-एप से भी जुड़े थे। दिन भर व्हाट्स-एप पर मैसेजिंग होती थी। जांच में एसओ साहब की पत्नी के आरोप पुख्ता हुए तो पुलिस अधिकारियों ने थानेदार से इसका जवाब तलब किया, उनके पास कोई जवाब नहीं था। अधिकारियों ने उन्हें फौरन लाइन हाजिर कर दिया और चेतावनी दी कि आगे इस तरह की शिकायत आई तो खैर नहीं। सख्त कार्रवाई करते हुए पहले निलंबित किया जाएगा फिर विभागीय कार्रवाई भी कराई जाएगी। इसी तरह महिला कांस्टेबल को भी चेता दिया गया है।

(जागरण)

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं