Loading...
You are here:  Home  >  दुनियां  >  Current Article

इस्लामिक स्टेट पर अमेरिकी हमले शुरू..

By   /  September 16, 2014  /  No Comments

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

बगदाद. अमेरिका ने इस्लामी जिहादियों के खिलाफ अपने अभियान के दायरे को बढ़ाते हुए इराकी बलों के समर्थन में पहली बार बगदाद के समीप आतंकवादियों पर बमबारी की.140816-iraq-us-navy-mn-837_acd4afc0cad27f1ae9202533ad0fae3b

अमेरिकी हवाई हमला बगदाद से 25 किमी दूर सद्र अल-युसूफियाह में आईएस लड़ाकों के खिलाफ किया गया. इसके पहले वैश्विक राजनयिकों ने इराक की लड़ाई में मदद की प्रतिबद्धता जताई और करीब एक सप्ताह पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आईएस के खिलाफ कठोर युद्ध शुरू करने का आदेश दिया था.

एक बयान में अमेरिकी मध्य कमान ने कहा, “इराक में अमेरिकी सैन्य बलों ने आतंकवादियों (आईएस) पर हमला जारी रखा है. इराकी सुरक्षा बलों के समर्थन में सिंजार और दक्षिण पश्चिम बगदाद में रविवार और सोमवार को दो हवाई हमले किए गए.” इसमें बताया गया, “अपने लोगों की रक्षा और मानवीय अभियान के लक्ष्यों (आईएस) को निशाना बनाने के दायरे को बढ़ाने के बाद पहली बार दक्षिण पश्चिम बगदाद में हवाई हमला किया गया.”

बगदाद में एक ठिकाना नष्ट

इन हवाई हमलों में सिंजार के समीप आईएस के छह वाहनों और दक्षिण पश्चिम बगदाद में एक ठिकाने को नष्ट कर दिया गया. इसे मिलाकर इराक में अमेरिकी हवाई हमले की संख्या 162 हो गई है.

इराक ने स्वागत किया

इराकी सुरक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट जनरल कासिम अट्टा ने मंगलवार को अमेरिका की विस्तृत कार्रवाई का स्वागत किया. उन्होंने कहा, “अमेरिका ने सद्र अल-युसूफियाह में एक दुश्मन के खिलाफ महत्वपूर्ण हवाई हमले को अंजाम दिया.”

जंगी विमान को मार गिराया

आईएस लड़ाकों ने मंगलवार को हवाई हमला कर रहे सीरिया के एक जंगी जहाज को मार गिराया. सीरिया के राका में उनका मजबूत गढ़ है. इस इलाके पर गत जुलाई से जारी बमबारी में पहली बार लड़ाकों ने एक विमान को मार गिराया. एक मानवाधिकार निगरानी समूह ने कहा कि आईएस लड़ाकों ने एक सैन्य विमान पर हमला किया और वह दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email
  • Published: 3 years ago on September 16, 2014
  • By:
  • Last Modified: September 16, 2014 @ 8:36 pm
  • Filed Under: दुनियां

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

पैराडाइज़ पेपर्सः सामने आई ऐपल की गुप्त टैक्स मांद

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: