/पाकिस्तान ने दिया ईद का तोहफा, सीमा पर जबर्दस्त फायरिंग, 5 मरे, 35 जख्मी..

पाकिस्तान ने दिया ईद का तोहफा, सीमा पर जबर्दस्त फायरिंग, 5 मरे, 35 जख्मी..

ईद-उल-जुहा से एक रात पहले पाकिस्तान ने हदें पार करते हुए रिहायशी इलाकों में जबरदस्त फायरिंग की, जिसमें पांच भारतीय नागरिकों की मौत हो गई और 35 जख्मी हो गए. जम्मू के अरनिया और आरएस पुरा सेक्टर में पाकिस्तानी रेंजरों ने रविवार रात भर शेलिंग और फायरिंग की. वहीं भारतीय जवानों ने कुपवाड़ा के तंगधार से घुसपैठ की कोशिश कर रहे तीन आतंकियों को मार गिराया है. जवानों ने आतंकियों के पास से गोला-बारूद और हथियार बरामद किए हैं.ceasefire_violation
कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमले तेज कर दिए हैं. कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए पूछा, ‘कहां गई 56 इंच की छाती, अब तो कोई आंख से आंख मिलाकर बात भी नहीं करता.’

वहीं पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने पाकिस्तान की तरफ से बार-बार किए जा रहे सीजफायर उल्लंघन को गंभीरता से लेने की बात कही है. उन्होंने कहा, ‘भारत सरकार को अब गंभीर कदम उठाना चाहिए.’

पाकिस्तान ने 15 चौकियों पर की फायरिंग
बीती रात पाकिस्तान ने पिट्टल, चेनाज और नारायणपुर समेत 15 भारतीय चौकियों को भी निशाना बनाया. रिहायशी इलाकों में भी पाक रेंजरों ने शेलिंग और फायरिंग की. ईद को दखते हुए बीएसएफ के जवानों ने शुरू में धैर्य दिखाया, लेकिन जब पाकिस्तानी शेलिंग नहीं रुकी तो बीएसएफ ने भी इसका मुंहतोड़ जवाब दिया.खुफिया सूत्रों के मुताबिक, बीएसएफ की फायरिंग में पाकिस्तानी क्षेत्र में भी नुकसान हुआ है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, चार पाकिस्तानी नागरिकों की मौत हो गई और करीब एक दर्जन घायल हो गए. खुफिया एजेंसियों को शक है कि पाकिस्तान फायरिंग की आड़ में आतंकवादियों को घुसपैठ कराने की फिराक में है.

1 अक्टूबर से जम्मू एवं कश्मीर में भारत-पाकिस्तान सीमा पर संघर्ष विराम उल्लंघन की यह 11वीं घटना है.

आपको बता दें कि पाकिस्तानी सेना ने नियंत्रण रेखा पर भारतीय मोर्चों पर रविवार दिन में भी गोलीबारी की. मेंढर सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से अकारण गोलीबारी सुबह 8 बजे शुरू हुई और आधे घंटे तक चली. इसकी पुष्टि रक्षा मंत्रालय ने भी की थी. पाकिस्तानी सैनिकों ने स्वचलित हथियारों और मोर्टारों का इस्तेमाल किया था. ज्यादातर भारतीय नागरिक इस गोलीबारी का उस वक्त शिकार हुए, जब गांवों में बिजली नहीं थी और वे अपने घरों की छतों पर सो रहे थे.

हाल के दिनों में अलग-अलग जगहों पर सीजफायर का उल्लंघन
नियंत्रण रेखा पर पुंछ जिले में संघर्ष विराम उल्लंघन की सात और जम्मू में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर तीन घटनाएं हो चुकी हैं. शनिवार को पाकिस्तान के रेंजरों ने जम्मू जिले के आर. एस. पुरा सेक्टर में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर भारतीय मोर्चो को मोर्टार से निशाना बनाया. शुक्रवार को पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर भारत की अग्रिम चौकियों पर की गई पाकिस्तानी गोलीबारी की चपेट में आने से 12 वर्ष की एक लड़की मर गई और पांच अन्य घायल हो गए. सेना ने कहा है कि उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग सेक्टर में भी शुक्रवार की रात संघर्ष विराम उल्लंघन की घटना घटी थी.

 

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.