/टीएमसी नेताओं ने की सहारा प्रमुख की डायरी के नामों को जाहिर करने की मांग..

टीएमसी नेताओं ने की सहारा प्रमुख की डायरी के नामों को जाहिर करने की मांग..

संसद की कार्यवाही शुरू होने पर तृणमूल कांग्रेस के सांसदों ने सहारा की डायरी में बीजेपी के बड़े नेताओं का नाम होने का आरोप लगाया. लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने पर टीएमसी सांसद अपने हाथों में लाल डायरी, जिस पर सहारा लिखा था, लेकर प्रदर्शन और नारेबाजी करने लगे. हंगामें के बाद टीएमसी के सासंदों ने लोकसभा से वॉक आउट कर दिया. वहीं बीजेपी ने टीएमसी के सांसदों द्वारा लगाए आरोपों से इंकार किया.tmc_11214

टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने सहारा की लाल डायरी का हवाला देते हुए कहा कि इसमें बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का नाम है. वहीं टीएमसी नेता सुदीप बंदोपाध्याय ने कहा कि सहारा की लाल डायरी में बीजेपी चीफ अमित शाह और नरेंद्र मोदी का नाम है. सीबीआई ने क्या जांच की ये सबको पता चलना चाहिए.
वहीं बीजेपी ने टीएमसी सांसदों के आरोपों से इंकार किया. बीजेपी सांसद चंदन मित्रा ने कहा कि डायरी कोई सबूत नहीं होता है. ये कोर्ट ने पहले ही कहा है. अमित शाह या बीजेपी के किसी नेता का नाम डायरी में नहीं है. टीएमसी अपना काला धन छिपाने के लिए और अमित शाह की रैली से बौखला गई है. इसलिए टीएमसी ऐसे वेबुनियाद आरोप लगा रही है.

गौरतलब है कि कल कोलकाता में हुई बीजेपी की रैली में अमित शाह ने शारदा चिट फंड घोटाले को लेकर ममता बनर्जी की सरकार पर जमकर निशाना साधा था. शाह ने ममता पर चिटफंड में पकड़े गए अपने टीएमसी सांसद का बचाव करने का आरोप लगाया था. शाह ने पूछा था कि आखिर ममता चिटफंट के दोषियों को क्यों बचा रही हैं. दीदी इस मामले में चुप क्यों हैं.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं