/रेल मंत्री सुरेश प्रभु का रेल बजट राम भरोसे..

रेल मंत्री सुरेश प्रभु का रेल बजट राम भरोसे..

मुंबई,  सामाजिक संस्था”गांधी विचार मंच” के अध्यक्ष मनमोहन गुप्ता ने रेल मंत्री सुरेश प्रभु द्वारा पेश किये गए रेल बजट को राम भरोसे बताया. उनका कहना है कि रेल का किराया ना बढ़ाके प्रभुजी ने कोई अच्छा काम नहीं किया है और इसमे केवल घोषणा और मन को बहलाने वाली केवल बाते है. आज रेलवे की प्रीमियम ट्रेन की टिकट के दाम हवाई जहाज़ के किराये से ज्यादा है और ५० प्रतिशत से ज्यादा रेलवे टिकट तत्काल में बिकता है. इस कारण टिकट के दाम तो बढ़ाने का मतलब ही नहीं था और इस कारण टिकट के दाम बजट में नहीं बढ़ाया गया. लेकिन रेल मंत्री सुरेश प्रभु को चाहिए था कि जनता को सुविधाएं और ज्यादा और ढंग की दे सकते थे.सामाजिक संस्था गांधी विचार मंच के अध्यक्ष श्री मनमोहन गुप्ता

संस्था के अध्यक्ष मनमोहन गुप्ता ने मांग किया है कि हर स्टेशन पर महिलाओं के लिए टॉयलेट बनाया जाय जोकि साफ सुथरा हो और पानी की सुविधा हो,स्टेशनों पर लेडिस और वरिष्ठं नागरिको के लिए वेटिंग रूम हो, हर स्टेशन पर हर ट्रैन के लिए सफाई कर्मचारी हो और उसको चेक करने वाला हो, रेलवे पुलिस को आधुनिक हथियार, वाकी – टॉकी, मोबईल फ़ोन दिए जाय, मेट्रो ट्रेन की तरह ट्रेनों में आटोमेटिक दरवाज़े लगाये जाय, हर ट्रेन के अंदर दरवाजे पर और स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरा लगाया जाय, बिना टिकट किसी को किसी भी स्टेशन पर ना आने दिया जाय, हर स्टेशन पर डस्टबिन हो और टॉयलेट हो जोकि नियमित तौर पर साफ़ किया जाय हर बड़े स्टेशनों पर प्रेस रूम हो, ट्रेन की टिकट लोगों को आसानी से मिले ऐसी सुविधा देनी चाहिए तथा आजकल बाहर गाँव जाने वाली ट्रेनों की टिकट लोगों को काउंटर पर वेटिंग मिलती है और दलालों के जरिये के जरिये उसी काउंटर पर कन्फर्म मिलती है आखिर कंप्यूटर में ऐसी क्या खामिया है, उसकी जांच की जानी चाहिए और उसे दूर किया जाना चाहिए.

मनमोहन गुप्ता ने कहा है,” रेलमंत्री सुरेश प्रभुजी, कृपया जनता की इन सुविधाओं पर ध्यान दे और इनको दूर करे. यदि जनता को यह सुविधाए नहीं दी गयी तो मैं और हमारी संस्था के लोग रेल बजट के खिलाफ अनशन करेंगे.”

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं