Loading...
You are here:  Home  >  दुनियां  >  देश  >  Current Article

मंगलीपेठ में गरीब भी मनायेंगे अम्बेडकर जयंती..

By   /  April 11, 2015  /  No Comments

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

सिवनी 11 अप्रैल. देश की 85 प्रतिशत आबादी को समानता, शिक्षा और आरक्षण का अधिकार दिलाकर सभी देशवासियों को एकता के सूत्र में बांधने के लिये भारतीय संविधान का निर्माण करने वाले बाबा साहब डॉ. अम्बेडकर जयंति का आयोजन नगर के मंगलीपेठ के गरीबों ने भी किया है. इस अवसर पर प्रख्यात अम्बेडकरवादी विद्वान डॉ. लालकिशोर देशभरतार जी का नागरिक अभिनंदन किया जावेगा.baba saheb ambedakar

उक्त जानकारी देते हुये महात्मा रविदास शिक्षा मिशन सिवनी के संचालक रघुवीर अहरवाल ने बताया कि हमारा देश भारत प्राचीन काल में महानता के सर्वोच्च शिखर पर था इतना महान देश जिन कारणों से एक हजार साल तक गुलाम रहा वे कारण आज भी मौजूद है. बाबा साहब अम्बेडकर ने बहुत ही स्पश्ट शब्दों में लिखा है कि हजारों जातियों का विभाजन और उनके बीच ऊंच-नीच, नफरत, भेदभाव की भावना के कारण भारत गुलाम हुआ इन कारणों पर आगामी 14 अप्रैल 2015 को डॉ. अम्बेडकर जयंति समारोह में विद्वान अतिथि विस्तार पूर्वक प्रकाश डालेंगे. इसी दिन दोपहर बाद 3 बजे से अम्बेडकरवादी शोभायात्रा भी निकाली जावेगी.
महात्मा रविदास शिक्षा मिशन के संचालक रघुवीर अहरवाल ने आगे बताया कि नगर के मंगलीपेठ क्षेत्र में बड़ी संख्या में दलित आदिवासी वर्ग के बेहद गरीब मजदूर रहते हैं, जिन्होंने अपने खून पसीने की कमाई से डॉ. अम्बेडकर जयंति समारोह का आयोजन किया है. इस समारोह के मुख्य अतिथि प्रख्यात समाजसेवी डॉ. एल.के. देशभरतार एवं कार्यक्रम अध्यक्श गोंडी साहित्य संस्कृति इतिहास के मर्मज्ञ कन्हैयालाल उईके होंगे. विशेष अतिथियों में सर्वश्री हेमराज करोसिया, तीरथ गजभिये, एड. जागेश्वर सोनवाने, प्रो. देवेन्द्र त्यागी, पार्शद सुरेन्द्र करोसिया, गोंडवाना दर्शन के संपादक विवके डेहरिया होंगे. वक्तागणों में सर्वश्री रामेश्वर तुमराम, वीरलाल इनवाती, अरविंद करोसिया आदि को आमंत्रित किया गया है. इस समारोह के खास आकर्शक बाल अतिथि प्रखर वक्ता छात्र स्वप्निल उईके होंगे.

मिशन संचालक रघुवीर अहरवाल, सह संचालक नरेश मंगोरे, वीरसिंह लुधियाने अध्यक्श, अरविंद वाघ्या, सचिव संतोश वाघ्या, संरक्शक ज्ञानीलाल अहरवाल, लाल सिंह नंदौरे, डॉ. नंदोरे लखनादौन एवं उमाकांत बंदेवार, पंजू चौधरी, किशोर राठौरिया, दिलीप मंगोरे, हिम्मत सिंह मंगोरे, उमाशंकर मर्सकोले, जयसिंह परते ने आमजनता से इस समारोह में पहुँचने की अपील की है.

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email
  • Published: 3 years ago on April 11, 2015
  • By:
  • Last Modified: April 11, 2015 @ 8:00 pm
  • Filed Under: देश

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

न्याय सिर्फ होना नहीं चाहिए बल्कि होते हुए दिखना भी चाहिए, भूल गई न्यायपालिका.?

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: