/बिहार चुनाव सितंबर-अक्तूबर में: चुनाव आयोग

बिहार चुनाव सितंबर-अक्तूबर में: चुनाव आयोग

बिहार विधानसभा के चुनाव सितंबर-अक्तूबर में होंगे. एक समाचार एजेंसी ने मुख्य चुनाव आयुक्त के हवाले से यह जानकारी दी है.
एजेंसी के मुताबिक चुनाव आयोग चुनाव खर्च पर लगाम कसने के लिए नई व्यवस्था लागू करेगा.140811100108_laloo_yadav_neetish_kumar_hajipur_bihar_624x351_manishshandilya
चुनाव आयोग के हवाले से बताया गया है कि चुनाव के समय गुंडागर्दी रोकने के लिए केंद्रीय सुरक्षा बलों की व्यापक तैनाती की जाएगी.
बिहार में विधानसभा की 243 सीटें हैं.

पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा और सहयोगी दलों ने भारी जीत दर्ज की थी. लेकिन जनता दल (यू) के भाजपा से अलग होने और जनता परिवार के साथ आने की चर्चा से अब मुक़ाबला दिलचस्प हो गया है.
हालांकि समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव का कहना है कि ‘बिहार चुनाव से पहले जनता परिवार के दलों का विलय मुमकिन नहीं है’.

सीटों को लेकर लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल और नीतीश कुमार की जनता दल युनाइटेड के बीच सियासत तेज हो गई है.
राजद के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि उनका दल जदयू से बड़ा है और उसे प्रत्येक विधानसभा सीट पर प्राथमिकता दी जानी चाहिए.
वहीं नीतीश कुमार ने इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि राजद अपनी इच्छा से सभी 243 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े कर सकता है.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.