कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे [email protected] पर भेजें | इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है। पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं। हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो। आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें -मॉडरेटर

तोताराम यादव बोलता है कि खुद रेप करवाती है महिलायें..

लखनऊ। 6 जून. सूबे की सत्ताधारी समाजवादी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बलात्कार के लिए सीधेसीधे महिलाओं को ही जिम्मेदार ठहरा दिया है. यूपी सरकार द्वारा पैक्सफेड के चेयरमैन नियुक्त किये गए तोताराम यादव ने आज बलात्कार की घटनाओं पर बेशर्म बयांन देते हुए कहा कि रेप तो महिलाएं अपनी आपसी सहमती से ही करवा लेती हैं. जब कोई अपनी मर्जी से रेप करा लेगा तो फिर सरकार क्या करेगी।CG0sGb0UAAAszli

उत्तर प्रदेश सरकार में लालबत्ती धारक चेयरमैन तोताराम यादव ने कहा कि पहले तो महिलाएं अपनी मर्जी से रेप करवा लेती हैं और फिर पुलिस तथा प्रशासन के साथ सरकार को भी हैरान होना पड़ता है। उन्होंने कहा कि मेरा दावा है कि महिलाओं के साथ कभी रेप हो ही नहीं सकता। रेप कराने के बाद लोग सरकार को दोष देते हैं। अधिकांश लोग कहते हैं कि सरकार की कानून-व्यवस्था खराब है।

मैनपुरी में एक कार्यक्रम के दौरान चेयरमैन तोताराम यादव का दावा है कि उत्तर प्रदेश में दुष्कर्म की घटनाएं नहीं होती। उन्होंने कहा कि पहले तो सब स्वेच्छा से होता है, जब मामला सामने आ जाता है तो इनको रेप का रूप दे दिया जाता है। सब लड़का-लड़की की सहमति से होता है। तोताराम यादव मैनपुरी में यूपी में बढ़ रहे दुष्कर्म की घटनाओं पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे।

तोता राम यादव के इस बयांन से सूबे की समाजवादी पार्टी सरकार की मुश्किलें बढ़ना तय है. एक तरफ जहाँ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव महिलाओं की सुरक्षा के लिए नए नए प्रयोग कर रहे हैं और 1090 जैसी व्यवस्थाओं का विदेशों में प्रचार कर रहे हैं तो वहीँ दूसरी तरफ तोता राम यादव जैसे नेताओं के बयान सरकार को शर्मिंदा करने के लिए काफी हैं.

मैनपुरी के जिस कार्यक्रम में आज तोताराम यादव पहुचे थे वहां युवा सपयिओं ने प्रधानमंत्री मोदी के पुतला दहन का कार्यक्रम भी रखा था. मगर तोता राम यादव ने न सिर्फ इस कार्यक्रम को रोक दिया बल्कि मोदी की तारीफ़ के कसीदे भी पढ़े.

सरकार में पैक्सफेड के चेयरमैन तोताराम यादव समाजवादी पार्टी के पुराने नेता है और उनकी मैनपुरी के लोकसभा चुनाव के दौरान अहम भूमिका रही थी। सहकारिता विभाग की कार्यदायी संस्था पैक्सफेड के चेयरमैन तोताराम यादव तीन वर्ष पहले भी अपने पुत्र को तदर्थ रूप में लिपिक नियुक्त करने के बाद चर्चा में आए थे। उनके ऊपर पैक्सफेड ने तदर्थ नियुक्तियों में बड़े पैमाने पर गड़बडिय़ां के आरोप हैं। पैक्सफेड के चेयरमैन तोताराम के पुत्र के साथ उनके कई रिश्तेदार यहां पर नियुक्त हैं।

सूबे की अखिलेश सरकार को कई बार रेप की घटनाओं के कारण शर्मिंदगी उठानी पड़ी है. बदायूं बलात्कार केस ने तो दुनिया भर का ध्यान खींचा था. और सूबे के पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्यमंत्री राममूर्ति सिंह वर्मा पर बीते हफ्ते ही एक आंगनवाडी कार्यकर्त्री के साथ दुष्कर्म करने का आरोप भी लगा है.

भारतीय जनता पार्टी ने पैक्सफेड के चेयरमैन दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री तोताराम यादव के बयान की तीव्र भत्र्सना की है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डा. मनोज मिश्र ने बयान की तीखी निन्दा करते हुए कहा कि बयान न केवल अशोभनीय है बल्कि नारीशक्ति का अपमान है। ‘‘सहमति से होता है रेप’’ सम्बन्धी बात घटिया सोच का परिचायक है। भाजपा प्रवक्ता ने यह आरोप भी लगा दिया कि कि महिलाओं पर अभद्र टिप्पणीयों के लिए सपा नेता कुख्यात है। उन्होंने कहा कि तोताराम का यह बयान सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह, अबू आजमी और लीलावती के घ्रणित बयानों की श्रखंला का है ।

डा. मिश्र ने मांग की कि तोताराम यादव महिलाओं से तत्काल माँफी माँगे अन्यथा उन्हें बर्खास्त किया जाये।

(तहलका न्यूज़)

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

Shortlink:

2 Responses to तोताराम यादव बोलता है कि खुद रेप करवाती है महिलायें..

  1. mahendra gupta

    यह नेता लोग कुछ भी बोल सकते हैं क्योंकि इनकी जुबां पर कोई पाबन्दी नहीं है , चाहे वे किसी भी दल के क्यों न हो इन पर नियंत्रण तब ही लगेगा जब इनकी खुद बहन बेटियों के साथ ऐसा व्यवहार हो , मुलायम सिंह जैसे वरिष्ठ नेता व इनकी पार्टी के मुखिया जब पहले विवादास्पद बयांन दे चुके हैं तो इन पर व इनकी बेवकूफी पर के कहा जाये , जनता ही ऐसे नेताओं का इलाज कर सकती है लेकिन वह जाति सम्प्रदाय के चक्कर में फंस कुछ भी नहीं कर पाती है भारतीय लोकतंत्र में ऐसी घृणित मानसिकता वाले नेताओं के पनपने का यही कारण है

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर