/प्रशांत भूषण को पीटने वालों ने कलर्स को दी धमकी, अग्निवेश की बिग-बॉस में एंट्री आज

प्रशांत भूषण को पीटने वालों ने कलर्स को दी धमकी, अग्निवेश की बिग-बॉस में एंट्री आज

टीम अन्ना के प्रशांत भूषण की पिटाई करने वाले संगठन भगत सिंह क्रांति सेना ने कलर्स चैनल को धमकी दी है कि वे स्वामी अग्निवेश को ‘ बिग बॉस ‘ में न लें। संगठन ने कहा है कि अगर चैनल ने उनकी बात नहीं मानी, तो वह अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे। दूसरी ओर, टीम अन्ना के मनीष सिसोदिया ने कहा कि स्वामी अग्निवेश अपनी उपयोगिता के मुताबिक सही जगह पर जा रहे हैं। टीम अन्ना के पूर्व सदस्य स्वामी अग्निवेश बिग बॉस के नए मेहमान बनने वाले हैं। उनकी बिग बॉस के घर में आज वाइल्ड कार्ड एंट्री होने वाली है।

भगत सिंह क्रांति सेना के अध्यक्ष तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने चैनल को एक चिट्ठी लिखी है जिसमें उन्होंने कहा कि बिग बॉस में अग्निवेश जैसे ‘ राष्ट्रद्रोही ‘ और पाकिस्तान परस्त आदमी को न बुलाया जाए। संगठन का आरोप है कि अग्निवेश भी प्रशांत भूषण की तरह ही देश के गद्दार हैं और 2 अप्रैल को कश्मीर में भारतीय सेना के विरोध में बयान दिया था। इसमें उन्होंने कश्मीर के हालात और मौतों के लिए भारतीय सेना को जिम्मेदार ठहराया था। संगठन के मुताबिक अग्निवेश ने लाखों-करोड़ों देशवासियों के श्रद्धा के प्रतीक बाबा अमरनाथ को भी ढोंग बताया था।

संगठन ने चिट्ठी में लिखा है कि अगर अग्निवेश बिग बॉस में नजर आए, तो यह चैनल की सेहत के लिए अच्छा नहीं होगा। उन्हें अपनी बात समझाने के लिए ‘घर’ तक आना पड़ेगा। उधर, बिग बॉस के घर में अभी अग्निवेश की एंट्री हुई नहीं है और उनके बयानों पर विवाद शुरू होने लगा है। अग्निवेश ने बिग बॉस में जाने से पहले कहा कि बिग बॉस के घर के सदस्य देश के सांसदों से बेहतर हैं। उनके इस बयान पर बीजेपी ने कड़ी प्रतिक्रया जताई है। बीजेपी प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि सांसदों को अग्निवेश से किसी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है। अग्निवेश हमेशा पब्लिसिटी के लिए तैयार रहते हैं।

स्वामी अग्निवेश के बिग बॉस में जाने की खबरों पर प्रतिक्रिया देते हुए टीम अन्ना के सदस्य मनीष सिसोदिया ने इसे उनकी सही उपयोगिता बताया है। उनके अनुसार हर इंसान की उपयोगिता होती है और शायद उन्होंने इसे अपने लिए उपयोगी समझा होगा इसीलिए बिग बॉस में जाने की सोच रहे हैं। उन्होंने इस बात पर न ही कोई खुशी और न ही कोई परेशानी जाहिर की और इसे उनका व्यक्तिगत फैसला बताया। जब से अग्निवेश के बिग बॉस में जाने की खबर आई है यह टीम अन्ना के किसी सदस्य की यह पहली प्रतिक्रिया है।

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.