/पूनम पांडेय का नया पब्लिसिटी स्टंट: आसानी से दिख रहा है ‘बैन’ डर्टी-वीडियो

पूनम पांडेय का नया पब्लिसिटी स्टंट: आसानी से दिख रहा है ‘बैन’ डर्टी-वीडियो

होली के मौके पर माइक्रो ब्लॉग्गिंग साइट ‘ट्विटर’ पर अब तक का सबसे हॉट वीडियो अपलोड करने का दावा करने वाली किंगफिशर मॉडल ‘पूनम पांडे’ के इस हॉट वीडियो को यू-ट्यूब से भले ही कुछ ही मिनटों में हटा दिया गया हो, लेकिन दूसरी कई लिंक्स पर ये अब भी मौजूद है। बताया जा रहा है कि जिस वीडियो को ‘बेहद आपत्तिजनक’ होने की वजह से यू-ट्यूब से हटा दिया गया है वो वास्तव में पब्लिसिटी स्टंट का हिस्सा था।

अपनी हॉट फोटोज़ और वीडियो के जरिए सुर्खियाँ बटोरने वाली किंगफिशर मॉडल पूनम पांडे ने जब एक बेहद उत्तेजक वीडियो अपलोड करने की बात कही थी तो उनके फैन्स को इसका बेसब्री से इन्तजार था। इंटरनेट सनसनी के नाम से मशहूर पूनम ने यह वीडियो यू-ट्यूब पर अपलोड भी किया लेकिन बेहद उत्तेजक वीडियो होने के कारण यह यू-ट्यूब पर कुछ ही मिनट रह सका। यह अलग बात है कि दूसरे कई लिंक्स पर ये वीडियो बड़ी आसानी देखा जा सकता है।

ग़ौरतलब है कि वीडियो के साथ पूनम ने ट्वीट भी किया था, “हैप्पी होली..मुझे इतना प्यार देने के लिए शुक्रिया”। इसके साथ ही पूनम ने 18 वर्ष से कम उम्र वालों को वीडियो देखने से मना किया था। हालांकि यूट्यूब में इसे वयस्कों की श्रेणी वाले वीडियो में लिस्टेड नहीं किया गया था। खबर उड़ाई जा रही है कि इसके कंटेंट के चलते वीडियो को यू-ट्यूब में ज्यादा देर तक नहीं रहने दिया गया। इस बैन की घोषणा के बाद पूनम के वीडियो को और तेजी से सर्च और डाउनलोड किया जा रहा है।

2 मिनट 56 सेकेंड के इस वीडियो में भी पूनम पहले पूरे कपड़ों में, फिर बिकनी में दिख रही है। वीडियो में वो दूध (शायद भांग के साथ) पीते हुए और अपने बदन पर गिराते हुए दिखी। बाद में पूनम ने अपने शरीर पर रंग भी लगाया और इसके बाद वो कुछ अश्लील हरकतों पर उतर आईं। पूनम के फैन्स की कहानी के मुताबिक इसकी अश्लीलता के चलते इसे तुरंत ही ‘बैन’ कर दिया।

पूनम का कहना है कि वो होली के ही दिन पैदा हुई थी। इसबार होली भी उनके जन्मदिन के करीब ही है, इसके चलते वो डबल सेलेब्रेशन करना चाह रही थी और इस अवसर पर अपना वीडियो ‘डर्टी होली प्ले’ अपलोड किया था। होली के मौके पर पूनम ने अपने फैन्स को हॉट तोहफे भी दिए हैं। पूनम ने ट्विटर पर बिकीनी में अपनी तस्वीरें पोस्ट की। इन फोटोज़ में पूनम के हाथ में होली के रंग और पिचकारी हैं।

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.