Loading...
You are here:  Home  >  अपराध  >  Current Article

भाई ने ही लूटी बहन की अस्मत…

By   /  June 22, 2012  /  7 Comments

    Print       Email
इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

राजस्थान के पली शहर के सुभाष नगर में रहने वाली विवाहित युवती से युवक द्वारा दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पीडि़ता का आरोप है कि आरोपी युवक जीतू उर्फ जितेंद्र रावत को उसने धर्म का भाई बना रखा था। जो अपनी बहन की शादी के बहाने उसे अपने साथ ले गया। रास्ते में आरोपी ने पेय पदार्थ में उसे नशीला पदार्थ पिला दिया और बेहोशी की हालत में उसे दिल्ली ले गया। जहां होटल में दो दिन तक आरोपी ने उससे दुष्कर्म किया।

शुक्रवार शाम को पाली लौटी पीडि़ता ने ब्यावर के जीतू उर्फ जितेंद्र रावत के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने पीडि़ता का मेडिकल जांच करा आरोपी की तलाश शुरू की है।  

पाली से भगाया, होश आया तो दिल्ली में पाया

 

महिला थाना प्रभारी उम्मेदसिंह ने बताया कि अजमेर के मसूदा थाना क्षेत्र में लुलवा दांती का बाडिय़ा निवासी 27 वर्षीया युवती अपने पति व तीन बच्चों के साथ पाली के सुभाष नगर में किराए के मकान में रहती है। पाली में उसका पति मजदूरी करता है।

पीडि़ता का आरोप है कि उसने पीहर में पड़ोस के गांव बाणोता का बाडिय़ा (ब्यावर) निवासी जीतू उर्फ जितेंद्र रावत को उसने धर्म का भाई बना रखा था। जिसका अक्सर पाली में भी उसके घर आना-जाना था। आरोप है कि गत 16 जून को अपनी बहन की शादी के बहाने जितेंद्र रावत उसे अपने साथ ले गया और रास्ते में नशीला पेय पदार्थ पिलाया। होश आने पर उसने आप को दिल्ली के एक होटल में पाया।

आरोप है कि दो दिन तक आरोपी ने उसी होटल में उससे दुष्कर्म किया और गत 19 जून की रात को ब्यावर लाकर छोड़ दिया। वहां दो दिन तक अस्पताल में उपचार कराने के बाद शुक्रवार को पाली पहुंच पीडि़ता ने मुकदमा दर्ज कराया।

(भास्कर)

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
    Print       Email

About the author

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक “मुखौटों के पीछे – असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष” में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.

7 Comments

  1. aise logo ko jinda rahne ka koi adhikar nhi hai inko to turant fasi pe latka dena chahiye

  2. YE KHABAR KI HEAD LINE THIK NAHI HAI BAHIN KE SATTH…….. YE BAHUR HI GALAT BAAT HAI BAHIN KA RISHTA KEAWL HINDUYO MAI HI HOTA HAI VO US KA SAMMAN BHI JANTE HAI MUH VOLI DIWAR PAR LIKHI ORR JANE KAIYA KAIYA KHABR BANA KAR YE RISHATE BADNAAM KARTE HAI YE JANWAR RISHATA JOD KAR KHAWR BANANA YE BAHUT HI GALAT BAAT HAI MAI IES KI BHARTSHINA KARTA HO.

  3. आज तक मीडिया ने नहीं दिखाया –
    Gujarat has spent Rs. 140 crore for scholarships to 63 lakh Muslims students in the last 10 years –

  4. ye bhai nhi haramkhor hai. is to nanga kr kode lgaye jayen.

  5. Anjani Virgo says:

    kisi pe vishwash karna hi nai chahiya………
    yahi samajhdari hai……..

  6. Binder Jaan says:

    insaniat khatam ho gai hi …ji……offfffffffff

  7. Mohsin Khan says:

    Aisai Insaan Ko too Zinda jala daina chahiya. Its a Realy Cheep.

पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं. हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो. आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें - मॉडरेटर

You might also like...

पनामा के बाद पैराडाइज पेपर्स लीक..

Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: