/लैला खान इस दुनिया में नहीं रही…?

लैला खान इस दुनिया में नहीं रही…?

जम्मू  पुलिस ने दावा किया है कि लापता एक्‍ट्रेस लैला उर्फ रेशमा पटेल मर चुकी है. लेकिन लैला खान के जैविक पिता नादिर शाह पटेल ने गुरुवार को एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा कि उन्हें लैला के सौतेले पिता परवेज़ टाक की बातों पर यकीन नहीं है कि लैला मर चुकी है. पटेल ने कहा कि उन्हें यकीन नहीं है कि लैला, उसकी मां सलीमा बेगम, जारा, इमरान, रेशमा और नौकर की मौत हो चुकी है.
पटेल ने कहा कि अगर टाक के दावे सही होते तो मुंबई पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच की होती. पटेल ने कहा कि टाक और आसिफ शेख हमेशा ही सांताक्रूज में मौजूद उनके घर पर आया करते थे. लेकिन पटेल के मुताबिक वे इन दोनों की मौजूदगी में हमेशा ही असहज महसूस करते थे. पटेल ने कहा, ‘मैं अपने परिवार को हमेशा सावधान करता रहता था कि इन लोगों से सावधान रहो. लेकिन उन लोगों ने मेरी बात नहीं सुनी.’ लैला की मां सलीमा बेगम ने पटेल से तलाक लेकर परवेज टाक से शादी की थी. पटेल ने लैला के अपहरण की शिकायत दर्ज कराई है. बुधवार को पटेल ने अपनी बेटी के अपहरण की शिकायत की थी और इसके बाद पुलिस ने टाक और आसिफ शेख के खिलाफ एफआईआर दर्ज की.
जम्मू क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में आए परवेज अहमद टाक ने इससे पहले पूछताछ के दौरान कहा था कि लैला दुबई में है और दाउद इब्राहिम की पनाह में ‘डी कंपनी’ के लिए काम कर रही है.
जम्मू पुलिस के मुताबिक परवेज टाक ने पूछताछ के दौरान यह सनसनीखेज खुलासा किया है कि लैला और उसके पांच रिश्‍तेदारों की मुंबई के नजदीक गोली मारकर हत्‍या कर दी गई है. लेकिन डोडा-किश्तवाड़ रेंज के डीआईजी गरीब दास का कहना है कि इस बात की भी आशंका है कि परवेज पुलिस को गुमराह कर रहा हो. दास ने कहा कि जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस अपने स्तर पर हर तथ्य और दावे की पूरी जांच कर रही है और जरूरी हुआ तो मुंबई जाकर भी तहकीकात की जाएगी.
बीते 11 महीने से लापता लैला खान पर आतंकवादियों से संबंध के आरोप लगे हैं. परवेज काफी प्रेशर में है. परवेज के बयान पर मुंबई पुलिस का कहना है कि वह परवेज को कस्‍टडी में लेकर पूछताछ करेंगे. मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच के अफसर परवेज को हिरासत में लेने के लिए किश्तवाड़ पहुंच चुके हैं, जबकि महाराष्ट्र एटीएस के अधिकारी भी इस मामले की जांच में शामिल हो गए हैं. महाराष्ट्र एटीएस की एक टीम नासिक के नजदीक लैला खान के फार्महाउस जाकर सुराग जुटा रही है.
बॉलीवुड में लैला का कॅरियर चल नहीं पा रहा था. इसके बावजूद उनकी आमदनी कहीं ज्‍यादा थी. परिवार की संपत्ति 3 करोड़ रु. से ज्‍यादा थी. मुंबई के समीप इगतपुरी में लैला का बंगला 70 लाख रु. से ज्‍यादा का था. 29 साल की लैला 30 जनवरी 2011 की रात ओशिवारा से इगतपुरी के लिए अपने परिवार के साथ निकली थी. इसके बाद से ही वह लापता है.
सूत्रों के मुताबिक, पिछले साल दिल्ली हाईकोर्ट में हुए धमाकों में लैला की कार का इस्तेमाल तो हुआ ही, धमाकों के तार किश्तवाड़ के रहने वाले तीन व्यक्तियों से भी जुड़े हैं. महाराष्ट्र एटीएस ने किश्तवाड़ की एक दुकान से लैला की लग्‍जरी कार बरामद की थी. यह कार यहां एक गैरेज में छह महीने से बंद पड़ी थी. दिल्ली हाइकोर्ट में हुए बम ब्लास्ट में इस कार का इस्तेमाल किए जाने का शक है.
लैला पर यह भी आरोप है कि उसने आतंकियों को सलाह  दी कि वे बॉलीवुड में पैसा लगाकर खूब कमाएं और फिर उस पैसे से कश्मीर या भारत के अन्य जगहों में तबाही फैलाएं. उस समय लैला बॉलीवुड में अपने पांव जमाने की कोशिश कर रही थी और साथ साथ टॉप एक्ट्रेसेस से मेलजोल बढ़ा रही थी. वह उन सब टॉप एक्ट्रेसेस को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) बुलाकर लश्कर से जुडे अपने संपर्क के लोगों को एंटरटेन कर खुश करना चाहती थी.
1990 में पिता नादिर की दूसरी शादी के बाद लैला अपनी मां के साथ अलग रहने लगी. उसने बॉलीवुड में अपनी किस्‍मत आजमाने की कोशिश की. लैला ने अपना बॉलीवुड कॅरियर रेशमा पटेल के तौर पर शुरू किया और दिव्या भारती के अंदाज में खुद को पेश किया. 2008 में फिल्म ‘वफा’ में राजेश खन्ना के साथ बेफामीन देकर लैला ने खूब सुर्खियां बटोरी.
‘वफा’ के बाद लैला किसी और फिल्म में नजर नहीं आई. अपने पहले निर्देशक राकेश सावंत के साथ उसने दो और गुमनाम-सी फिल्मों में काम जरूर किया. इसके बावजूद उसके जलवे कम नहीं थे. उसके पास अपना फार्म हाउस भी था. बताया जाता है कि इस फार्म हाउस को भी उसने आतंक का अड्डा बना रखा था.
इस साल जनवरी में भी सुराग की तलाश में मुंबई पुलिस लैला के फार्म हाउस पर पहुंची थी. वहां से उनको कई तस्वीरें, अहम कागजात और कई सीडियां मिलीं. उन दस्तावेजों से सैटेलाइट फोन के बारे में पता चला, जो आमलोगों के लिए प्रतिबंधित है. जांच करने पर पुलिस को पता चला था कि सेटेलाइट फोन का इस्तेमाल परवेज करता था. परवेज का असली नाम अतीक है और वह नाम बदल कर लैला के साथ रहता था. बॉलीवुड में लैला का कॅरियर चल नहीं पा रहा था. इसके बावजूद उनकी आमदनी कहीं ज्‍यादा थी. परिवार की संपत्ति 3 करोड़ रु. से ज्‍यादा थी. मुंबई के समीप इगतपुरी में लैला का बंगला 70 लाख रु. से ज्‍यादा का था. 29 साल की लैला 30 जनवरी 2011 की रात ओशिवारा से इगतपुरी के लिए अपने परिवार के साथ निकली थी. इसके बाद से ही वह लापता है.
जांच एजेंसियों से जुड़े एक सूत्र ने बताया, ‘तीन साल पहले लैला खान ने कुख्यात बांग्लादेशी आतंकी संगठन हूजी के मेंबर मुनीर खान से शादी की. इसके बाद यह कहा जाता है कि मुनीर ने उनका परिचय लश्कर के खतरनाक आतंकियों से कराया. लैला की फिल्‍म डायरेक्‍ट करने वाले राकेश सावंत ने बताया कि शूटिंग के दौरान भी कुछ संदिग्ध किस्म के लोग लैला से मिलने आते थे. तीन साल पहले जब वह एक फिल्म प्रोजेक्ट पर बात करने के लिए उसके घर गए तो वहां बेडरूम में कुछ हथियारबंद कश्मीरी लोगों को देखकर चौंक गए थे. लैला ने बताया था कि वह उसके रिश्तेदार हैं.
लैला से पहले भी कई बार बॉलीवुड और आतंकियों का लिंक सामने आ चुका है. आतंकी हमलों में जब शक की सूई बॉलीवुड की खूबसूरत अदाकारा लैला खान उर्फ सलमा पटेल की तरफ घूमी तो वह और उसका परिवार गायब हो गया.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.