/नरेन्द्र मोदी को गैंग्स ऑफ चोरपुर का मुखिया बताया..

नरेन्द्र मोदी को गैंग्स ऑफ चोरपुर का मुखिया बताया..

एक तरफ नरेन्द्र मोदी को भारत के भावी प्रधानमंत्री का प्रबल दावेदार समझा जा रा है वहीँ दूसरी ओर गुजरात मेंgang of chorpur विधानसभा चुनावों के मद्देनजर काग्रेस ने सरकार विरोधी अभियान को और तेज करते हुए गैंग्स ऑफ वासेपुर की तर्ज पर एक पोस्टर जारी किया है.  जिसमें मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को गैंग्स ऑफ चोरपुर का सरगना का बताया गया है.

अहमदाबाद में युवक काग्रेस की ओर से किए गए विरोध प्रदर्शन में मोदी की तुलना हिंदी फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर के पात्रों से की गई. इस पोस्टर में मोदी को हाथ में छुरा लिए गैंग्स ऑफ चोरपुर के मुखिया के रूप में दिखाया गया. पोस्टर में उद्योगपति व अदाणी समूह के अध्यक्ष गौतम अदाणी तथा राज्य की काबिना मंत्री आनंदी बेन पटेल को उनके साथी के रूप में दर्शाया गयाहै.  प्रदेश काग्रेस अध्यक्ष अर्जुन मोढवाडिया का कहना है कि “मोदी सरकार जनता के प्रति संवेदनहीन व लोकतात्रिक मूल्यों की सतत उपेक्षा कर रही है. इसलिए काग्रेस को इस प्रकार के अभियान की जरूरत पड़ी है जो नैतिक रूप से कतई गलत नहीं है.” इस बीच, काग्रेस ने 8 जुलाई से राज्य के सभी महानगरों व जिला स्तर पर विरोध प्रदर्शन आयोजित करने का एलान किया है.

Facebook Comments

संबंधित खबरें:

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.