/एक लीटर में सौ किलोमीटर चलेगी मेगापिक्सल कार

एक लीटर में सौ किलोमीटर चलेगी मेगापिक्सल कार

देश की प्रसिद्ध वाहन निर्माता कंपनी टाटा मोटर्स ने टाटा नैनो की असफलता के बाद पेट्रो उत्‍पाद के दिनों दिन बढ़ते दामों को ध्‍यान में रखकर भारतीयों के लिए एक नई प्रकार की कार टाटा मेगापिक्‍सल को पेश करने की तैयारी की है.  टाटा मोटर्स ने 82वें जिनेवा मोटर शो में अपनी नयी कान्सेप्ट कार टाटा मेगापिक्सल उतारी.

सूत्रों के अनुसार चार सीटों वाली यह कार पर्यावरण अनुकूल वाहन के चहेतों के लिए पेश की जा रही है. टाटा मेगापिक्सल में एक लिथियम इयान फास्फेट बैटरी और चलती कार में रीचार्ज के लिए पेट्रोल इंजन जेनरेटर लगा है. यह कार एक बार टंकी भरकर 900 किलोमीटर तक चलाई जा सकेगी. इस कार में प्रति किलोमीटर महज 22 ग्राम कार्बन डाई आक्साइड उत्सर्जन होगा. इस कार की सबसे बड़ी खूबी प्रति लीटर 100 किलोमीटर का माइलेज बताई जा रही है.
टाटा मोटर्स द्वारा प्रस्तावित टाटा मेगापिक्सल में लिथियम आयन फास्फेट बैट्री तथा एक ऑन-बोर्ड पेट्रोल इंजन जेनरेटर होगा. यही नहीं इस कार में 900 किमी की रेंज (सिंगल फ्यूल टैंक के साथ) तथा बैट्री के साथ 100 किमी/लीटर की फ्यूल इकोनॉमी होगी.
इतनी खूबियों वाली इस कार का लुक भी बहुत शानदार है. 325 सीसी सिंगल सिलेंडर इंजन वाली इस कार में चार लोगों के बैठने की क्षमता होगी. कार मार्केट में आने से पहले ही चर्चा में आ गयी है, लोगों में इस कार के प्रति उत्साह देखने को मिल रहा है.
Facebook Comments

संबंधित खबरें:

  • संबंधित खबरें उपलब्ध नहीं

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.