Loading...
You are here:  Home  >  Articles by kumarajnish
Latest

सैलाँ बनाम सैलून

By   /  June 5, 2013  /  देश  /  No Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..– कुमार रजनीश|| जी हाँ, आज कल हमारे यहाँ दो तरह का हेयर कटिंग सैलून पाया जाता है। सबसे पहले आपको सैलाँ से रू-ब-रू करवाते हैं। जाहिर है, जो महानगर में रहते हैं, उन्‍हें ज्‍यादातर इसी ‘यूनीसेक्‍स सैलाँ’ से पाला पड़ता होगा। वेल डि‍सिप्लिन्‍ड वाले सैलाँ में घुसते ही आपका स्‍वागत एक मुस्‍कुराती हुई सुन्‍दर कन्‍या द्वारा किया जाता है। अपनी प्‍लास्टिक स्‍माईल को बरकरार रखते हुए, आपसे बहुत सारे मल्‍टीपल च्‍वाईस प्रश्‍न […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

राजू बूट पॉलिश वाला…

By   /  September 28, 2012  /  समाज  /  No Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें.. – कुमार रजनीश|| उम्र के जिस मोड़ पर वह था, उसे देखकर कोई भी यह अनुमान नहीं लगा सकता था कि उसे जीवन में इतना कटु अनुभव हो चुका है। बेहद खूबसूरत-सा दिखने वाले राजू से जब हमने उसकी जिंदगी के अनुभवों के बारे में जानने कि कोशिश […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

फेसबुक सेंट्रिक अप्रोच…!

By   /  September 22, 2012  /  मीडिया, रहन सहन  /  No Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..– कुमार रजनीश|| “आज मैंने एक नयी टैबलेट ली है”, “मुझे ट्रैफिक पुलिस ने रेड सिग्नल जम्प करने पर पेनालिटी ले ली”, “हाई ऑल … आई ऍम ब्लेस्ड विथ बेबी गर्ल”, “ये फोटो चमत्कारी है..इसे ५ मिनट के अन्दर शेयर करे और अपने जीवन में लाभ पाए”, आज […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

जीवन साथी की दुकान….!

By   /  September 16, 2012  /  इधर उधर की, व्यंग्य, समाज  /  1 Comment

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..– कुमार रजनीश|| चौकिये मत! यह कोई वयस्कों की समस्याओं का समाधान या इलाज़ करने वाली क्लिनिक या दुकान का नाम नहीं है. मैं भी जब यह पहली बार उस रिक्शेवाले भैया से इसके बारे में सुना था तो चौक गया था. दरअसल बात यह है कि कल […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

ऐ बेटा..जरा जल्दी आना !

By   /  September 12, 2012  /  कला व साहित्य  /  No Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..– कुमार रजनीश|| ऐ सुनते हैं जी.. बुढापी में सुनाइयो कम देने लगा है इनका. आज छोटका के जन्मदिन है. कुछ अच्छा सा मिठाई ले आईएगा और का बोलते है उसको जो अंगरेजवन सब खाता है? अरे छोटका की माँ उसको केक कहते हैं..तुम भी अब सेठिया गयी […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

।। हिसाब – किताब बराबर ।।

By   /  May 10, 2012  /  व्यंग्य  /  3 Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..– कुमार रजनीश- आज सुबह  दिल्ली मेट्रो में एक बुजुर्ग व्यक्ति से बात हो रही थी. वो अपने अनुभवों को बता रहे थे – कैसे पूरा जीवन उन्होंने नौकरी , परिवार की देखभाल में गुज़ार दी. अब उनकी इच्छा है कि वो रिटायरमेंट के बाद अपने गाँव चले जाए और […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

हाईटेक ज़माना है सो देते हैं, ई-आशीर्वाद!

By   /  May 8, 2012  /  धर्म, व्यंग्य  /  7 Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..पौराणिक काल में वर्षो तप करने पर ऋषि-मुनि को ईश्वरीय कृपा प्रदान होती थी. इन कृपाओं को संत-मुनि मानव कल्याण के लिए प्रयोग एवं उपयोग करते थे. जन-कल्याण में दैविक आशीर्वाद का रूप भी बड़ा अलौकिक होता था. किसी काल में राजा भागीरथ के कष्टों को हरने के […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: