Loading...
You are here:  Home  >  Articles by praveen gugnani
Latest

दीवाली पर चीनी माल का आर्थिक आक्रमण…

By   /  October 31, 2013  /  देश  /  3 Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..दीवाली पर हमारें धन को लील रहा चीनी ड्रेगन… “नुकसानदेह चीनी पटाखें और घातक प्लास्टिक से बनी झालरें और अन्य दीवाली के सामान कर रहें हमारें अर्थतंत्र और जनतंत्र को खोखला.” ये हालात तब हैं जब चीन का उत्पादन चीन में बन कर भारत आ रहा है किन्तु […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

पाकिस्तान के समक्ष निरंतर घुटने टेक रही भारत सरकार…

By   /  October 21, 2013  /  देश  /  2 Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें.. पिछले दिनों पाकिस्तान के सन्दर्भ में दो घटनाएं हुई, इन घटनाओं के विषय में भारतीय जनमानस ठीक वैसी ही अपेक्षा कर रहा था जिस रूप में ये घटनाएं हुई है. घटना न. एक हमारें भारतीय प्रधानमन्त्री मनमोहन सिंग न्यूयार्क में पाकिस्तानी प्रधानमन्त्री नवाज शरीफ से मिलनें की तैयारी […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

पिछले वर्ष की आठ घटनाएँ जिनसे पाक के हौसले बुलंद हुए: भाग-2

By   /  August 12, 2013  /  देश  /  No Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..पाक द्वारा हमारें पांच सैनिकों की ह्त्या का दुस्साहस हमारी पिछली चुप्पियों का परिणाम है!!   दिसंबर, 2012 – पाक गृह मंत्री ने भारत आकर अनाधिकृत और अनावश्यक छेड़ा संवेदन शील मुद्दों को, और हम चुप रहे- भारत यात्रा पर आये पाकिस्तानी गृह मंत्री रहमान मलिक ने विवाद […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

पिछले वर्ष की आठ घटनाएँ जिनसे पाक के हौसले बुलंद हुए: भाग-1

By   /  August 8, 2013  /  देश  /  No Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..पाक द्वारा हमारें पांच सैनिकों की ह्त्या का दुस्साहस हमारी पिछली चुप्पियों का परिणाम है!!   आज फिर भारत शोक संतृप्त है और शर्मसार भी! हैरान भी है और परेशान भी!! निर्णय के मूड में भी है और अनिर्णय के झंझावात में भी!!! पाकिस्तान की शैतानी सेना और […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

शांति के नोबेल से सम्मानित आज भी अपनी भूमि से वंचित

By   /  July 6, 2013  /  बहस  /  2 Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..विश्व के हाल ही के इतिहास के महान नेताओं का उल्लेख करना हो तो महात्मा गांधी, मार्टिन लूथर किंग, जार्ज वाशिंगटन, अब्राहम लिंकन, विंस्टन चर्चिल, केनेडी आदि नेताओं के बाद नेलसन मंडेला और दलाई लामा ही ऐसे व्यक्तित्व हैं जिनकों आज समूचा विश्व आदर भरी दृष्टि से देखता […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

ब्रिक सम्मेलन में चीन के सामनें क्यों मौन रहे मनमोहन?

By   /  April 3, 2013  /  देश  /  No Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..पिछले दिनों हमारें प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह ने डरबन में ब्रिक्स शिखर सम्मलेन में आये  चीन नव नियुक्त के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से भेंट की. चीन में नेतृत्व परिवर्तन के बाद दोनों देशों के बीच यह पहला उच्च स्तरीय संपर्क है. इस बैठक के ठीक पूर्व राजनयिक दृष्टिकोण […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

अफजल और कसाब की फांसी में अन्तर्निहित सन्देश को समझें देश!!!

By   /  February 11, 2013  /  देश  /  No Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..पूरी दुनिया के लोकतंत्र के मंदिर भारतीय संसद पर हमलें के आरोपी, आतंकवादी मोहम्मद अफजल को अंततः फांसी दे ही दी गई. फांसी का निर्णय केंद्र मैं बैठी कांग्रेसी सरकार ने लिया तो अवश्य किन्तु इसके पीछे मानसिकता और विचार कौन सा चल रहा था यह विचार किया […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

अपनी महत्वाकांक्षाओं के कारण याद आता है नितीश को गठबंधन धर्म

By   /  January 30, 2013  /  राजनीति  /  No Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..-प्रवीण गुगनानी|| गठबंधन की राजनीति का चलन भारत में पिछले दो दशकों से ही परवान चढ़ा है लेकिन जिस प्रकार से भारतीय राजनीति ने गठबंधन के सहारे ने नित नये अनुभवों का खट्टा मीठा स्वाद चखा है उससे लगता नहीं कि भारत में गठबंधन की राजनीति एक नया […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

दामिनी का दमन पूर्ण अंतिम संस्कार आपातकाल नहीं तो और क्या है?

By   /  January 3, 2013  /  बहस  /  3 Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..दामिनी के माता पिता को दबावपूर्वक ले जाकर पौ फटने के पहले ही दामिनी की चिता सजा देना और संस्कारों के विपरीत सूर्योदय के पूर्व अंतिम संस्कार का दबाव बनाना अघोषित आपातकाल नहीं तो और क्या है? –प्रवीण गुगनानी|| हमारे सभ्य समाज में जीने के अधिकार से क्रूरता […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Latest

नरेन्द्र तोमर ने क्यों कहा “कार्यकर्ता भाव बना रहें” ?

By   /  December 23, 2012  /  राजनीति  /  3 Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..-प्रवीण गुगनानी|| किसी भी समर को जीतनें या अभियान को सफल बनानें के लिए उसके नायक के साथ एक विश्वस्त साथी या मार्गदर्शक होनें का एक अलग ही महत्त्व होता है. पौराणिक काल से लेकर आजतक और श्रीराम हनुमान से लेकर महाभारत के कृष्ण अर्जुन तक न जानें […]


इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..
Read More →
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
%d bloggers like this: