कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे mediadarbar@gmail.com पर भेजें | इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है। पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं। हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो। आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें -मॉडरेटर
Home » Posts tagged with » पुलिस

औपनिवेशक कानूनों का अब तक जारी रहना आखिर क्या दर्शाता है…

-शैलेन्द्र चौहान|| आजादी के बाद से ही भारतीय लोकतंत्र में लोक की यह अपेक्षा रही है कि यहां के लोगों/नागरिकों को सही सुरक्षा और न्याय मिले. आम भारतीय पर्याप्त लंबे समय से न्यायपालिका और पुलिस जिन्हें औपनिवेशिक व्यवस्था में शासन का अंग माना गया था, दोनों ही संस्थानों से आतंकित और हताश है. आज समाज […]

अम्बेडकरनगर में बुर्कापोश महिला पाकेटमार सक्रिय…

रिक्शा एवं टैक्सी-टैम्पो सवारियों को बनाती हैं निशाना -रीता विश्वकर्मा|| अम्बेडकरनगर। होशियार! खबरदार! बुर्कापोश पाकेट मारों से वर्ना आप की पाकेट से बटुआ और बड़े बैग में से पैसों से भरा पर्स पलक झपकते ही गायब हो जाएगा फिर आप इस करिश्मे से आश्चर्य चकित होकर हाथ मलते रह जाएँगे। जी हाँ यह एक दम […]

Read More

मोटरसाईकिल पर स्टंट कर रहे युवकों पर पुलिस ने गोली चलाई, एक युवक की मौत..

राजधानी के वीवीआइपी इलाके में शनिवार स्टंट कर रहे युवकों पर पुलिस ने गोली चला दी जिसमें एक युवक की मौत हो गई और एक अन्य घायल हो गया जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जानकारी के अनुसार, अशोका रोड चौराहे के समीप पांच सितारा होटल ली मेरीडियन इलाके में देर रात स्टंट कर […]

Read More

भारत में लगभग सभी सरकारी संगठन पुलिस थाने के समान ही तो हैं

-मनीराम शर्मा|| प्राय: अखबारों की सुर्ख़ियों में ख़बरें रहती हैं कि अमुक अपराध में पुलिस ने एफ़ आई आर नहीं लिखी  और अपराधियों को बचाया है. पुलिस का कहना होता है कि कुछ लोग व्यक्तिगत रंजिशवश झूठी एफ़ आई आर लिखवाते हैं और इससे उनके इलाके में अपराध के आंकड़े अनावश्यक ही बढ़ जाते हैं […]

Read More

नक्सलवाद का नया अध्याय, कौन है लाल आतंक का ज़िम्मेवार…?

-फाल्गुनी सरकार|| कहते हैं हर सिक्के के दो पहलू होते हैं. जब देश के बड़े-बड़े विद्वान छत्तीसगढ़ के दरभा में कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर हुए नक्सली हमले की कड़े शब्दों में निन्दा कर रहे थे, उस समय मैं प्रदेश की एक आम नागरिक इसके दूसरे पहलू पर सोच रही थी. आगे कुछ भी लिखने […]

Read More

चलो वह पत्रकार है ना, तो उसे मार डालो – अफसर और दबंग नेताओं के शिकंजे में फंसा पत्रकार

निकाय चुनाव में मतदान के दौरान भदोही के जिलाधिकारी ने एक मतदाता को सरेआम थप्पड़ मार दिया. मौके पर मौजूद एक पत्रकार ने इस घटना को अपने कैमरे में कैच किया, तो डीएम साहब भड़क गये. मौजूद थानाध्यक्ष को ललकार कर उन्हों ने पत्रकार को दबोचा और जमकर पीटने के बाद थाने के हवालात में […]

Read More

पुलिस हिंसा और भ्रष्टाचार की बुनियाद अंग्रेजी साक्ष्य कानून

-मणिराम शर्मा|| ब्रिटिश साम्राज्य के व्यापक हितों को ध्यान में रखते हुए गवर्नर जनरल ने भारतीय साक्ष्य अधिनियम 1872 बनाया था| यह स्वस्प्ष्ट है कि राज सिंहासन पर बैठे लोग ब्रिटिश साम्राज्य के प्रतिनिधि थे और उनका उद्देश्य कानून बनाकर जनता को न्याय सुनिश्चित करना नहीं बल्कि ब्रिटिश साम्राज्य का विस्तार करना और उसकी पकड […]

Read More

अखबार के दफ्तर में तिहरा हत्याकांड, अंधेरे में तीर चला रही है त्रिपुरा पुलिस!

-एक्सकैलिबर स्टीवेंस विश्वास||​ अगरतला में 19 मई को `दैनिक गणदूत’ के दफ्तर में तीन लोगों की हत्या के मामले में पुलिस अभी अंधेरे में तीर चला रही है। इस मामले में प्रगति यह है कि इस अभूतपूर्व हत्याकांड में अखबार के मालिक के मारे गये ड्राइवर की पत्नी नियति घोष को गिरफ्तार करके पुलिस उससे […]

Read More

तो क्या पी.सी.ज्वैलर्स से ऑपरेट होता था सैक्स रैकेट का कारोबार…?

-नारायण परगाई|| देहरादून. देहरादून में पकड़ा गया अब तक का सबसे बड़ा सैक्स रैकेट जाने माने पी.सी.ज्वैलर्स के यहाँ से संचालित हो रहा था लेकिन पुलिस की थ्योरी मे इस नाम को बेपर्दा होने से इसलिए बचा लिया क्योकि इसमें बड़े कई बड़े सफेद पोश नेताओ के दामन दागदार थे. देहरादून पुलिस इस रैकेट को […]

Read More

स्वर्ण नगरी में देह व्यापार को मिल रहा है खाकी का प्रश्रय…

स्वर्ण नगरी में फल फूल रहा है देह व्यापार का कारोबार..पुलिस की नाक के नीचे होता है देह का धंधा…कच्ची बस्तियों में बाहर से आई कई महिलायें इस धंधे में शामिल… -जैसलमेर से सिकंदर शेख़|| स्वर्ण नगरी जैसलमेर विश्व् मानचित्र पर पर्यटन नगरी के नाम से विख्यात है, देश दुनिया से लाखों की संख्या में […]

Read More