कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे mediadarbar@gmail.com पर भेजें | इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है। पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं। हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो। आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें -मॉडरेटर
Home » Posts tagged with » Anna

मीडिया हकीकत दिखाए तो टीम अन्ना को बर्दाश्त नहीं…

-तेजवानी गिरधर|| अब तक तो माना जाता था कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और भाजपा की घोर प्रतिक्रियावादी संगठन हैं और उन्हें अपने प्रतिकूल कोई प्रतिक्रिया बर्दाश्त नहीं होती, मगर टीम अन्ना उनसे एक कदम आगे निकल गई प्रतीत होती है। मीडिया और खासकर इलैक्ट्रॉनिक मीडिया पर उसकी तारीफ की जाए अथवा उसकी गतिविधियों को […]

ऐसी क्या गोपनीय साजिश रची जा रही थी टीम अन्ना की बैठक में?

-तेजवानी गिरधर- अन्ना से उसके कथित फाउंडर मेंबर मुफ्ती शमून काजमी की छुट्टी के साथ एक यक्ष प्रश्न उठ खड़ा हुआ है कि आखिर टीम की बैठक में ऐसा क्या अति गोपनीय हो रहा था, जिसे रिकार्ड करने की वजह से काजमी को बाहर होना पड़ा? मेरे एक सोशल नेटवर्किंग मित्र ऐतेजाद अहमद खान ने […]

Read More

कब तक कायम रहेगी अन्ना और बाबा की मजबूरी में ओढ़ी एकजुटता?

-तेजवानी गिरधर- कैसा अजब संयोग है कि आज जब कि देश में गठबंधन सरकारों का दौर चल रहा है, आंदोलन भी गठबंधन से चलाने की नौबत आ गई है। सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे और बाबा रामदेव सरकार से अलग-अलग लड़ कर देख चुके, मगर जब कामयाबी हाथ लगती नजर आई तो दोनों ने गठबंधन कर […]

Read More

टीम अन्ना की चौकड़ी ने अन्ना को फिर किया हाइजैक, राजू ने ब्लॉग पर डाले अन्ना के नोट

ये एक ऐसा ब्लॉग है जो सिर्फ मराठी जानने वाले छठी पास सोशल वर्कर किशन बाबूराव हज़ारे अर्फ अन्ना चलाते हैं। लेकिन ब्लॉग अंग्रेजी में है। दरअसल http://annahazaresays.wordpress.com/ नाम से चल रहा ब्लॉग, जो अन्ना की बोली के तौर पर जाना जाता है, राजू पारुलकर नाम के एक पत्रकार चलाते हैं। उन्होंने अन्ना और उनकी […]

Read More

न पैसे का हिसाब, न कांग्रेस का विरोध, न साथियों की बकबक पर झकझक: बस मौनव्रत

करीब हफ्ते भर से अपने सहयोगियों पर हो रहे हमलों के बीच गांधीवादी समाजसेवी अन्ना हजारे ने शनिवार को मौनव्रत पर जाने का ऐलान कर दिया। अन्ना की इस अचानक  की गई घोषणा ने सबको सकते में डाल दिया। अन्ना ने कहा था कि सरकार मौन की भाषा ही समझती है, इसलिए वह खामोशी धारण करने जा रहे […]

Read More

कौन सठियाया? 85 साल के ‘बाल’ और 74 साल के ‘बड़े भाई’ में छिड़ी नूराकुश्ती

भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में दो ‘मराठा योद्धाओं’ को अब एक नया हथियार मिल गया है- उम्र का हथियार। एक योद्धा दूसरे को सठिया गया साबित करने में जुटा है तो दूसरा पहले को बचपना न करने की चेतावनी दे रहा है। दिलचस्प बात ये है कि दोनों की उम्र सत्तर से उपर है। 85 […]

Read More

जब अपने मंच पर चार-पांच ईमानदार भी नहीं जमा कर पाए अन्ना, तो भ्रष्टाचार से क्या खाक लड़ेंगे?

काले धन पर बाबा रामदेव की सिफारिशें नहीं मानेगी सरकार, अन्ना ने कहा कोई बात नहीं से आगे.. -सतीश चंद्र मिश्रा।। मीडिया में जिस अग्निवेश की बदनीयती और बेईमानी के बेनकाब होने के बाद उसको अन्ना हजारे ने अपने से अलग किया है उस भगवाधारी के पाखंड की करतूतों का काला चिटठा दशकों पुराना है. […]

Read More

काले धन पर बाबा रामदेव की सिफारिशें नहीं मानेगी सरकार, अन्ना ने कहा कोई बात नहीं

-सतीश चंद्र मिश्रा।। केंद्र सरकार ने रामदेव को मनाने के लिए केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के अध्यक्ष की अगुआई में जो उच्चस्तरीय समिति गठित की थी उसने  23 सितम्बर को हुई अपनी बैठक में स्पष्ट कर दिया कि समिति योग गुरु के एक भी प्रमुख सुझाव पर अमल करने नहीं जा रही है। बैठक में यह […]

Read More

अनशन से नहीं, जाति व्यवस्था मिटाने से होगा भ्रष्टाचार का खात्मा -उदित राज

जिस तरह मीडिया ने अन्ना हजारे के भ्रष्टाचार विरोधी अनशन को दिखाया, उससे बहुत लोगों को अपनी पहले की सोच पर या तो शक हुआ होगा, या ऐसा भी लगा होगा कि मीडिया ने सच बताया। आमतौर पर साहित्य को समाज का दर्पण कहा जाता है, लेकिन इस मामले में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ने यह सिद्ध […]

Read More

क्या तुष्टिकरण की नीति अपना कर अन्ना भी दोहरा रहे हैं गांधी की गलतियां?

-एस. शंकर।।   दिल्ली की जामा मस्जिद के इमाम बुखारी ने अन्ना के आंदोलन को इस्लाम विरोधी  बताया, क्योंकि इसमें वंदे मातरम और भारत माता की जय जैसे नारे लग रहे थे।  उन्होंने मुसलमानों को अन्ना के आंदोलन से दूर रहने को कहा। ऐसी बात वह  पहले दौर में भी कह चुके हैं, जिसके बाद […]

Read More