कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे mediadarbar@gmail.com पर भेजें | इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है। पाठक चाहे आलेखों से सहमत हों या असहमत, किसी भी लेख पर टिप्पणी करने को स्वतंत्र हैं। हम उन टिप्पणियों को बिना किसी भेद-भाव के निडरता से प्रकाशित भी करते हैं चाहे वह हमारी आलोचना ही क्यों न हो। आपसे अनुरोध है कि टिप्पणियों की भाषा संयत एवं शालीन रखें -मॉडरेटर
Home » Posts tagged with » nirmal baba chor

निर्मल बाबा, ये हथकडी क्यों आपकी तरफ आ रही है?

लगता है कि निर्मलजीत नरूला उर्फ निर्मल बाबा पर सभी शक्तियों की किरपा समाप्त हो गयी है. जिसके चलते मध्य प्रदेश की एक अदालत में निर्मल बाबा की अग्रिम जमानत याचिका खारिज हो जाने से निर्मल बाबा के जेल जाने का रास्ता साफ हो गया है. दरअसल मध्य प्रदेश में सागर जिला के बीना के रहने […]

अदालत ने पुलिस को कहा, दर्ज़ करो निर्मल बाबा के खिलाफ़ ठगी और धोखाधड़ी का मामला

तनया एवं आदित्‍य ठाकुर की याचिका पर सुनाया फैसला सीजेएम, लखनऊ राजेश उपाध्याय ने गोमतीनगर थाने को आदेशित किया है कि दिल्ली स्थित कथित धार्मिक गुरु निर्मल बाबा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उसकी विवेचना करें. सीजेएम ने बुधवार को यह आदेश तनया ठाकुर (कक्षा बारह की छात्रा) और आदित्य ठाकुर (कक्षा दस के छात्र) […]

Read More

निर्मल बाबा ने फिर बदली टीआरपी, विरोधियों को फायदा समर्थकों को नुकसान: नंo-1 पर India TV

  निर्मल बाबा पिछले पंद्रह दिनों से खबरिया चैनलों की टीआरपी में उठा-पटक जारी रखे हुए हैं। पिछले कई सप्ताह से नंबर वन की कुर्सी से दूर रहने वाले इंडिया टीवी को दर्शकों ने फिर आसमान पर पहुंचा दिया। एक हफ्ते में 4.7 अंको की उछाल के साथ इंडिया टीवी नंबर वन पर पहुंच गया। […]

Read More

डरपोक बाबा ने मीडिया को समागम से बाहर किया, भक्तों से कहा: ‘‘चैनलों को फोन करो”

खबर है कि दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में निर्मल बाबा के समागम के बाहर बाबा के समर्थकों ने पत्रकार से बदसलूकी की है। आरोप है कि बाबा के समर्थकों ने चैनल वन के पत्रकार नागेंद्र भाटी के साथ बाबा के समर्थकों ने धक्का मुक्की की और जबरन भीतर ले जाने की कोशिश की। नागेंद्र ने […]

Read More

निर्मल बाबा को जिस मीडिया ने आसमान पर चढ़ाया, वही रसातल में उतार रहा है

यदि वाकई स्टार न्यूज को चमत्कारी बाबाओं का महिमा मंडन किए जाने पर ऐतराज रहा है, तो यह उसे अब कैसे सूझा कि ऐसे विज्ञापन नहीं दिखाए जाने चाहिए। ऐसा प्रतीत होता है कि या तो विज्ञापन की रेट को लेकर विवाद हुआ होगा या फिर ये लगा होगा कि जितनी कमाई बाबा के विज्ञापन […]

Read More

निर्मल बाबा का जादू हुआ खत्म, पहुंचने लगे शिवलिंग और भगवान वापस घरों में

-नरेंद्र दीक्षित- नैमिषारण्य, (सीतापुर)।। शिवलिंग को अपने घर में न रखने और मंदिर में छोड़ आने की सलाह देने वाले निर्मल बाबा से लोगों का मोहभंग होने लगा है। अब लोग मंदिरों में छोड़े गए शिवलिंग वापस घर ले जाने लगे हैं। सीतापुर के नैमिषारण्य के प्रसिद्ध चक्र कुंड में लोगों ने सैकड़ों शिवलिंग छोड़ […]

Read More

गुणगान से ज्यादा लोकप्रिय है निर्मल बाबा का विरोध, स्टार न्यूज़ की TRP आसमान पर

निर्मल बाबा की ‘किरपा’ उन्हें चाहने और उनका गुणगान करने वाले चैनलों को जितनी लोकप्रियता उनके प्रवचन वाले प्रोग्राम से मिल रही थी, उससे कहीं ज्यादा लोग उनके पोल-खोल को देख रहे हैं। पिछले हफ्ते की टीआरपी रिपोर्ट में स्टार न्यूज़ को जबर्दस्त उछाल मिला है। बाबा का कच्चा चिट्ठा खोलने वाले अखबार प्रभात खबर […]

Read More

मैं तो सारी दुनिया को उल्लू बना के लूटो सूं.. ‘कोई मेरो का कल्लेगो?”

-जगमोहन फुटेला- कवि ओमप्रकश आदित्य की एक कविता सुनी थी कोई पैंतीस साल हुए रुद्रपुर के एक कवि-सम्मलेन में. शीर्षक था, “कोई मेरो का कल्लेगो” (कोई मेरा क्या कर लेगा). अब वो कविता शब्दश: याद नहीं. लेकिन उस कविता का पात्र दुनिया भर की हरामज़दगी करने की बात कहता है. इस चुनौती के साथ कि […]

Read More

मुश्किल में फंसे हैं निर्मलजीत नरूला उर्फ़ निर्मल बाबा के सगे भाई

लुधियाना [श्रीधर राजू]। विवादों के चलते एकाएक चर्चा में आए निर्मल बाबा के लुधियाना में रहने वाले बड़े भाई मंजीत सिंह नरूला और उनके परिजन धर्म संकट में हैं। दरअसल, निर्मल बाबा के खिलाफ उनके ही सगे जीजा एवं वरिष्ठ राजनेता इंदर सिंह नामधारी ने मोर्चा खोल रखा है। ऐसे में मंजीत सिंह नरूला और […]

Read More

किसने निर्मल नरूला पर फूंके करोड़ों रुपए उसे ठेकेदार से निर्मल बाबा बनाने में?

निर्मल बाबा नामक इस ढोंगी को इस काम में लाने वाला कौन है? अगर रिपोर्टों की ही मानें तो पता चलता है कि निर्मल ब्यापार में पूरी तरह दीवालिया हो चुका था। उसके पास इतने पैसे नहीं थे कि वो इस बाबागिरी के कारोबार को शुरू कर सके। बाबागिरी के इस कारोबार को शुरू करने […]

Read More