आईपीएल भ्रष्टाचार और काले धन का अड्डा-बाबा रामदेव

– नरेश गुप्ता ||

योग गुरू बाबा रामदेव ने आईपीएल क्रिकेट प्रतियोगिता को काले धन और भ्रष्टाचार का अड्डा करार देते हुए इसे देश की संस्कृति और सम्मान के साथ खिलवाड़ बताया है। रामदेव ने शनिवार को हरियाणा के सिवानी में एक रोड शो के दौरान लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आईपीएल में सारा कालाधन लाया गया है। यह अब काला खेल हो गया है।

उन्होंने कहा कि इस खेल में नशा, वासना का कुचक्र और नंगा नाच चल रहा है। यह खत्म होना चाहिए तभी देश बचेगा। केंद्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन(संप्रग) सरकार पर हमला बोलते हुए रामदेव ने कहा कि देश में योग, आयुर्वेद और संन्यासियों का अपमान किया जा रहा है। सरकार का बस चले तो वह एक दिन भी उन्हें जिंदा न रहने दे। हम तो देश की 100 करोड़ जनता की श्रद्धा और विश्वास की बदौलत जिंदा हैं।

उन्होंने कहा कि संसद में अगर 300 सांसद भी अच्छे पहुंच जाएं तो देश का काया कल्प हो जाएगा। हालांकि इस वक्त भी संसद में कुछ अच्छे लोग हैं लेकिन इनकी संख्या और अधिक होने की जरूरत है। उन्होंने काले धन को देश में वापस लाए जाने की पुरजोर मांग उठाते कहा कि अगर ऎसा हुआ तो देश फिर से चमक जाएगा और नक्सलवाद जैसी समस्या भी खत्म हो जाएगी, क्योंकि नक्सलियों द्वारा खरीदे जा रहे हथियारों में भी कालेधन का इस्तेमाल हो रहा है।

इससे पहले रामदेव ने सुबह हिसार के टाउन पार्क में योग कार्यक्रम का आयोजन किया तथा लोगों से भ्रष्टाचार के खिलाफ चल रही देशव्यापी मुहिम में शामिल होने तथा तीन जून को दिल्ली में प्रस्तावित कार्यक्रम में भाग लेने और अगस्त में आरपार की लड़ाई के लिए लोगों के सहयोग की भी अपील की। उन्होंने कहा कि आज देश को लूटा जा रहा है। आम आदमी कंगाली में जी रहा है और देश की धन सम्पदा भ्रष्टाचार के माध्यम से विदेशों में जमा कराई जा रही है।

उन्होंने मौजूदा वर्ष को क्त्रांति वर्ष निरूपति करते हुए कहा कि वर्ष 2020 तक भारत में एक नया अध्याय लिखा जाएगा। उन्होंने कहा कि तीन जून की तारीख नकादीक आने के साथ ही केंद्र सरकार की घबराहट शुरू हो गई है। उन पर दबाव बनाने के लिए ओछे हथकंडे अपनाए जा रहे हैं, लेकिन उन पर कोई इसका असर नहीं पडेगा। देश की जनता उनके साथ है ऎसे में उन्हें सरकार के नोटिसों की कोई परवाह नहीं है। उन्होंने कहा कि मैने राष्ट्रपति का चुनाव सीधे तौर पर जनता द्वारा किए जाने की बात इसलिए नहीं की थी कि वह इसकी दौड़ में आना चाहते हैं। भ्रष्टाचार को कम करने का यह एक अच्छा तरीका साबित हो सकता है।

Facebook Comments Box

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *