दो नाबालिग लड़कियों के साथ रातभर सामूहिक दुष्कर्म..

नागपुर के हुडकेश्वर इलाके में पांच लोग, ब्लू फिल्म देखने के साथ साथ दो बालिकाओं के साथ सारी रात सामूहिक दुष्कर्म करते रहे. दोनों बालिका में से एक 12 और दूसरी 14 वर्ष की बताई गई है. उनकी इस करतूत का खुलासा सोमवार की सुबह पीड़ित 12 वर्षीय बालिका ने किया. घटना के बाद हुडकेश्वर पुलिस ने दुष्कर्म का प्रकरण दर्ज कर पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

घटना के बाद सभी आरोपी शहर से भागने की तैयारी में थे. आरोपियों ने घटना को रविवार की रात 9 बजे से सोमवार की सुबह 5 बजे तक अंजाम दिया. घटना स्वागत नगर में एक आरोपी के घर में अंजाम दी गई. उस घर में कोई नहीं था. बताया जाता है कि 14 वर्षीय बालिका आरोपियों में से एक की करीबी दोस्त थी और उससे अच्छी तरह परिचित थी. उसी के कहने पर दोनों उसके साथ स्वागत नगर गई थीं.

पुलिस सूत्रों के अनुसार स्वागत नगर इलाके में रहने वाले प्रशांत जोगदंड (24), छगन श्रीवास (30), पंकज दूधकावडे (22), भूषण जावडे (21) और संजय सोनटक्के (23) ने बस्ती की दो बालिकाओं के साथ सामूहिक कुकर्म किया.

बताया जाता है कि आरोपी पंकज दूधकावडे की 14 वर्षीय बालिका दोस्त है. रविवार की रात पंकज उसे बस्ती में मिला. उसने कहा कि उसकी सहेली (12 वर्षीय) कहां गई? पता चला है कि 12 वर्षीय बालिका उसके साथ अक्सर रहती थी.

उसने कहा कि उसे बुला कर ला, कुछ दोस्तों से मिलवाता हूं. पंकज की बातों में आकर दीपिका (14 वर्षीय बालिका परिवर्तित नाम) ने अपनी 12 वर्षीय सहेली नीलम (12 वर्षीय बालिका का परिवर्तित नाम) को उसके घर से बुला कर ले गई. नीलम के घर वालों ने दीपिका से पूछा तो वह थोड़ी देर में वापस आने की बात कही.

इधर पंकज दीपिका और नीलम को लेकर अपने दोस्त छगन श्रीवास के घर लेकर गया. वहां पर छगन के अलावा प्रशांत, भूषण और संजय मौजूद थे. छगन के घर में कोई नहीं था. वे सभी पहले से ही ब्लू फिल्म देख रहे थे. पंकज के पहुंचने के बाद ब्लू फिल्म बंद कर दी. उसके बाद पंकज ने दीपिका और नीलम का एक दूसरे से परिचय कराया.

जब दीपिका ने उनसे पूछा कि घर के लोग कहां गए तो पंकज और उसके दोस्तों ने उनसे कहा कि घर में कोई नहीं है. पार्टी मनाएंगे. दीपिका और नीलम ने इनकार किया कि वे घर वापस नहीं गईं तो घर वाले परेशान हो जाएंगे. इस बीच फिर पंकज और उसके दोस्तों ने ब्लू फिल्म शुरू कर दी. उन पर पहले से ही उसका नशा हावी था. उसके बाद सभी दोस्त सारी रात उनके साथ ब्लू फिल्म देखते हुए दुष्कर्म करते रहे.

इधर दोनों बालिकाओं के गायब होने से घर वाले सारी रात उनकी तलाश में जुटे रहे. सोमवार की सुबह उनके परिजन हुडकेश्वर थाने में उनके गायब होने की शिकायत दर्ज कराने जा रहे थे, तब बदहवास हालत में नीलम उन्हें आती दिखाई दी. उसकी हालत बता रही थी कि उसके साथ कुछ ऊंच-नीच हो गई है. वह काफी डरी हुई थी. नीलम के परिजन पहले उसे घर ले गए और दीपिका के बारे में पूछा तब वः उन्हें छगन के घर लेकर गई. दीपिका वहां अकेली पड़ी थी. घर का दरवाजा खुला था.

दोनों के घर वालों ने आरोपियों को इस बात का पता नहीं चलने दिया कि उनकी करतूतों का उन्हें पता चल चुका है. पीड़ित बालिकाओं को उनके घर वाले थाने लेकर पहुंचे तथा दोनों बालिकाओं ने घटना की सारी बातें पुलिस को बताई. हुडकेश्वर पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म का प्रकरण दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया है.

Facebook Comments Box

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *