ताज़ा खबरें

कांग्रेस ‘कमल छाप नस्ल’ से निज़ात पाए.. मोदी की महाविजय, महिला मतदाता नायिका ? जरा आंकड़े देखें कि किन तबकों के बड़े जज कितने मोदी को बेनकाब करता सोनिया गांधी का लेख.. सुप्रीम कोर्ट के शिकंजे में रामदेव नेहरू परिवार भी अब ओछी जुबान वाले पनौती और चुनौती 4 दिन के युद्धविराम से कोई राहत मिलेगी?

राजस्थान सरकार का बृजभूषण शरण सिंह बन गये निम्स यूनिवर्सिटी के मालिक बीएस तोमर । जिनके खिलाफ फिर एक यौन शोषण का मुकदमा दर्ज हुआ है लेकिन गिरफ्तारी किसी की नहीं हुई । तोमर एन्ड कम्पनी के खिलाफ यूनिवर्सिटी की ही एक छात्रा ने यौन शोषण का मामला दर्ज कराया है। तोमर के साथ ही यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर रोहित शर्मा और स्टाफ के अन्य पदाधिकारियों के खिलाफ सम्बंधित थाने में एफआईआर दर्ज करवाई गई है लेकिन पुलिस ने आगे कोई कार्यवाही नहीं की क्योंकि तोमर की पहुंच भी विवादास्पद भाजपा सासंद बृजभूषण शरण सिंह जैसी ही है ।

असम निवासी कॉलेज छात्रा ने बताया कि 2015 में डेंटल सर्जन विभाग में एडमिशन लिया था। पहले साल से यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर ने घूरना शुरू किया। बाद में इन्होंने छेड़खानी शुरू कर दी। मामले को लेकर में बीएस तोमर के पास भी गई लेकिन उन्होंने कार्रवाई करने की जगह उन्होंने भी यौन शोषण करने का काम किया। कॉलेज छात्रा ने बताया कि प्रोफेसर रोहित शर्मा मुझे पढ़ाता था। पहले साल से ही घूरना शुरू कर दिया था। कहा- हम लोग दो दिन गोवा चल रहे हैं। तुम भी चलो। वहां एंजॉय करेंगे। ड्रिंक पियेंगे। उधर तुम मुझे खुश भी कर देना। यह सुनकर मैंने मना कर दिया और वहां से चली गई। इसके बाद परीक्षा के दौरान ही प्रोफेसर ने खुली कक्षा में मेरी तलाशी ली। जहां उसने प्राइवेट प्रार्ट्स को छुआ। मैंने विरोध किया तो धमकी दी ओर कहा कि देखता हूं देखें तुझे इस कॉलेज से कैसे जाने देता हूं।

छात्रा ने बताया कि प्रोफेसर की शिकायत करने के लिए जब मालिक बीएस तोमर के पास गई तो उन्होंने कहा कि रोहित ने सही ही तो कहा है तुम इतनी सुंदर हो। आखिर हम तुम्हे कॉलेज से जाने भी कैसे दे सकते हैं। उसके बाद उन्होंने कहा कि तुम सब कुछ मेरे लिए त्याग कर दो तुम्हारी राह आसान हो जाएगी। उसके बाद बलबीर खड़ा हुआ और मेरा हाथ पकड़कर अपने प्राइवेट पार्ट को टच कराया। उसने कहा कि में तुझे सारी खुशी दे दूंगा। तुझे बहुत आगे तक ले जाउंगा। ये बोलकर वह मेरे पास आ गया ओर मुसे किस करने का प्रयास किया। मुझे टाइट पकड़कर मेरा रेप करने का प्रयास किया। मैं वहां से अपने आप को बचाकर भाग गई। उस दौरान मैं सदमें में आ गई। ये बात छोटी बहन को भी बताई। उसने कहा कि सब ठीक हो जाएगा तू इनके पास अब अकेली मत जाना। पढ़ाई पर ध्यान देना।

इसके बाद 2018 में रोहित ने बोला कि मैं कहता हूं वैसे कर नहीं तो रेप कर दूंगा। तू इस कॉलेज से कैसे जाती है मैं देखता हूं। इन सबने मिलीभगत करके आज दिन तक मुझे कॉलेज से नहीं जाने दिया। हर साल किसी ना किसी सब्जेक्ट में फेल कर देते थे। मैं जब रि-इवेल्यूएशन के लिए बोलती तो मुझे फॉर्म भरने का समय ही नहीं दिया जाता था। 2020 में कोरोनाकाल के दौरान सरकार की गाइड लाइन के अनुसार सबको बिना एग्जाम दिए ही प्रमोट किया तब भी भारत सरकार की गाइड लाइन के विरूद्ध जाकर उस साल भी मुझे फेल कर दिया।

छात्रा ने बताया कि जब में इस मामले की शिकायत कॉलेज प्रिंसिपल मृदुला त्रेहान के पास गई तो उन्होने भी ऐसा ही कहा कि ये खूबसूरत लड़कियों के साथ ऐसा ही करते हैं। तू तो नॉर्थ ईस्ट की है बलवीर सर के पास चली जा उनसे माफी मांग ले। वो जैसा बोले वैसा कर ले। इनके ऊपर पहले से ही कई केस हो गए हैं। इनके कॉलेज में ही सबका नेक्सस है। इनकी एप्रोच बहुत ऊपर तक है। इन पर आज तक कोई आंच नहीं आई है।

छात्रा ने बताया कि यूनिवर्सिटी में ही काम करने वाले नीलेश परदे के संपर्क में आई। उन्होंने कहा कि पापा को बोलना मेरे से बात करें। पापा को इन्होंने कहा कि आपकी बेटी को यहां से निकलना है तो पैसे खर्च करने पड़ेंगे। पापा ने इनसे पिंड छुड़ाने के लिए आज दिन तक 5 लाख रूपए दे दिए। उसके बावजूद इन्होंने पास नहीं किया। आज कोर्स को 8 साल हो गये लेकिन इन्होंने पास नहीं किया। 2022 में कॉलेज के एक सीनियर ने मेरे से पार्किंग में छेड़खानी की। विरोध किया तो कहा कि आज दिन तक तू इसलिए पास नहीं हो सकी। मेरा इन लोगों ने मिलकर कॅरियर खत्म कर दिया। मेरा पूरा परिवार मानसिक रूप से पीड़ित है। आए दिन आत्महत्या के ख्याल आते हैं। मामले की निष्पक्ष जांच के लिए उन्होंने सरकार से गुहार लगाई है।

साभार- राजस्थान चौक

Facebook Comments Box

Leave a Reply